Search found 6136 matches

by rajsharma
17 Dec 2017 20:27
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: भाभी का बदला
Replies: 74
Views: 28239

Re: भाभी का बदला

उसके बाद विजय अंकल ने माँ को बोला-“मेरी लव, तेरी चूत का रस भी मुझे पिला दे…” और अंकल ने माँ को बेड के किनारे कर लिया और उनकी मोटी-मोटी जांघों को चौड़ा करके उनकी चूत को चाटने लगे। माँ को भी अपनी चूत चटवाने में बहुत मजा आ रहा था। बाहर मुझे अपनी छोटी सी प्यासी चूत को चटवाने में मजा आ रहा था। माँ खुलकर...
by rajsharma
17 Dec 2017 20:25
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: भाभी का बदला
Replies: 74
Views: 28239

Re: भाभी का बदला

माँ उनका किसी रंडी के जैसे साथ देती रही, उसके बाद विजय अंकल की टी-शर्ट और लोवर माँ ने निकाल दिया और अंकल को नीचे लेटाकर माँ उनको चूमने लगी। माँ और विजय अंकल इसी तरह एक दोनों को किस करते रहे। करीब 20 मिनट तक ये प्रोग्राम चलता रहा। और बाहर मेरा भाभी का, और हम ये देखते रहे कि अंदर विजय अंकल के कच्छे म...
by rajsharma
17 Dec 2017 20:21
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: अनौखा इंतकाम
Replies: 35
Views: 13649

Re: अनौखा इंतकाम

रमीज़ ने पूरा लंड बाहर निकाल कर पूरे ज़ोर से अंदर पेला, ऐसे ही दो तीन ज़ोरदार धक्के मारने के बाद एक हुंकार भरते हुए रूबीना के उपर ढह पड़ा. रमीज़ के लंड से गाढ़ी मलाई निकल कर उस की बहन की चूत को भरने लगी. उन दोनो की हालत बहुत बुरी थी. रूबीना को एक अंजानी ख़ुसी का अहसास अपने पूरे जिस्म में महसूस हो र...
by rajsharma
17 Dec 2017 20:20
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: अनौखा इंतकाम
Replies: 35
Views: 13649

Re: अनौखा इंतकाम

इसी तरह वो पूरा लंड एकदम से अंदर डाल कर आहिस्ता आहिस्ता अपनी बहन को चोदने लगा. कुछ ही मिनिट्स में रमीज़ का लंड रूबीना की फुद्दि की जड़ तक पहुँच चुका था. रूबीना ने अपनी टांगे अपने भाई की कमर के गिर्द लपेट दी. रूबीना के मुख से फूटने वाली हल्की कराहे उस के भाई का हॉंसला बढ़ा रही थीं और वो हर धक्के पर ...
by rajsharma
17 Dec 2017 20:18
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: मुहब्बत और जंग में सब जायज़ है
Replies: 110
Views: 40437

Re: मुहब्बत और जंग में सब जायज़ है

सुल्तान भाई ने जब देखा कि में अब अपनी गान्ड की चुदाई को एंजाय करने लगी हूँ. तो उन्होने भी और भी तेज झटके मेरी गान्ड में मारना शुरू कर दिया. भाई के ज़ोरदार धक्कों की बदौलत मेरी छाती से लटकते मेरे बड़े बड़े मम्मे बुरी तरहा हिल हिल कर और उछल उछल कर मेरे बिस्तर के गद्दे के साथ रगड़ खा रहे थे. जिस की वज...