Search found 6219 matches

by rajaarkey
17 Jan 2017 19:58
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: घर के रसीले आम मेरे नाम
Replies: 49
Views: 18893

Re: घर के रसीले आम मेरे नाम

रश्मि नहाने चली जाती है और राज नेक्स्ट डे का रिज़र्वेशन करवा लेता है और वह एक ही सीट रिज़र्व करवाता है वह भी उपर बर्थ, उसके बाद वह खाना पॅक करवा कर रूम पर आ जाता है जहाँ रश्मि उसी साड़ी में ड्रेसिंग टेबल के सामने अपने होंठो पर लिपस्टिक लगाती रहती है, राज उसको देख कर मुस्कुराता हुआ बाथरूम में घुस जा...
by rajaarkey
17 Jan 2017 19:55
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: घर के रसीले आम मेरे नाम
Replies: 49
Views: 18893

Re: घर के रसीले आम मेरे नाम

san1381 wrote:
16 Jan 2017 17:29
very erotic
vnraj wrote:
16 Jan 2017 20:52
बहुत गर्मागर्म पेशकश है

Shukriya dosto
by rajaarkey
17 Jan 2017 19:53
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: माँ को बनाया सास
Replies: 8
Views: 1677

Re: माँ को बनाया सास

में अपनी शादी से पहले वाले अपने कमरे में आ कर बैठ गई. दुकान में पेश आने वाले वाकिये की वजह से मेरी साँसे अभी तक संभाल नही पाईं थी. कुछ ही देर बाद मुझे मोटर साइकल की आवाज़ सुन कर अंदाज़ा हो गया कि भाई घर वापिस आ चुका है. रात काफ़ी हो चुकी थी और इसीलिए में अभी सोने के मुतलक सोच ही रही थी कि जमशेद भाई...
by rajaarkey
17 Jan 2017 19:24
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: माँ को बनाया सास
Replies: 8
Views: 1677

Re: माँ को बनाया सास

चूड़ियों की दुकान पर बहुत रश था और रश की वजह से औरते और मरद सब एक दूसरे में घुसे जा रहे थे. में अपने हाथों में चूड़ियाँ पहनने में मसरूफ़ थी. कि इतने में एक ज़ोर दार धक्का पड़ा और मेरे बिल्कुल पीछे खड़े मेरे भाई का बदन पीछे से मेरे जिस्म के साथ चिपकता चला गया. ज़ोर दार धक्का लगने से मेरा हाथ सामने प...
by rajaarkey
17 Jan 2017 19:23
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: माँ को बनाया सास
Replies: 8
Views: 1677

Re: माँ को बनाया सास

ज़ाहिद हैरत जदा और गुस्से की हालत में कभी जमशेद को देखता और कभी अपने कदमों में बैठी नीलोफर पर अपनी नज़रें जमा लेता. जब कि जमशेद और नीलोफर दोनो “गुम सूम” एक बुत की तरह बे जान हो कर बैठे हुए थे. और उन को समझ में नही आ रहा था कि बोले भी तो क्या बोले. थोड़ी देर बाद ज़ाहिद ने थोड़ा झुक कर नीलोफर को उस क...
by rajaarkey
16 Jan 2017 14:30
Forum: Hindi ( हिन्दी )
Topic: कोई तो रोक लो
Replies: 551
Views: 115403

कोई तो रोक लो-205

205 अभी मेरी आँखों ने बरसना सुरू ही किया था कि, तभी मुझे मेहुल मेरी तरफ आते दिखा. उसे देखते ही, मैं अपनी आँखों को सॉफ करने लगा. मेहुल ने मेरे पास आते ही कहा. मेहुल बोला “अभी निक्की का कॉल आया था. उसने बताया है कि, निधि दीदी ने कहा है कि, कभी कभी दिमाग़ पर चोट लगने या किसी मानसिक आघात की वजह से, मरी...