मासूम ननद complete

दोस्तो इस फोरम में आप हिन्दी और रोमन (Roman ) स्क्रिप्ट में नॉवल टाइप की कहानियाँ पढ़ सकते हैं
Kamini
Posts: 10
Joined: 12 Jan 2017 13:15
Contact:

Re: मासूम ननद

Postby Kamini » 12 Jan 2017 14:00

डॉली कहानी बहुत ही मस्त है मैं आपकी इस कहानी की दीवानी हो चुकी हूँ
User avatar
Dolly sharma
Silver Member
Posts: 472
Joined: 03 Apr 2016 16:34
Contact:

Re: मासूम ननद

Postby Dolly sharma » 12 Jan 2017 16:06

Kamini wrote:डॉली कहानी बहुत ही मस्त है मैं आपकी इस कहानी की दीवानी हो चुकी हूँ
थैंक्स कामिनी

आपको ये कहानी पसंद आ रही है ये मेरा सौभाग्य है
Phantom
Novice User
Posts: 45
Joined: 12 Oct 2014 14:13
Contact:

Re: मासूम ननद

Postby Phantom » 12 Jan 2017 17:31

Truly it was amazing.........
User avatar
Dolly sharma
Silver Member
Posts: 472
Joined: 03 Apr 2016 16:34
Contact:

Re: मासूम ननद

Postby Dolly sharma » 13 Jan 2017 19:52

Phantom wrote:
12 Jan 2017 17:31
Truly it was amazing.........
thnks for supporting me
User avatar
Dolly sharma
Silver Member
Posts: 472
Joined: 03 Apr 2016 16:34
Contact:

Re: मासूम ननद

Postby Dolly sharma » 13 Jan 2017 19:53

पायल को इस हालत में देख कर राज की तो जैसे फॅट कर हाथ में आ गई हो. उसके चेहरे का रंग उड़ गया ऑर माथे पर पसीना बहने लगा. वो फॉरन ही दरवाज़े की तरफ भागा मैं जल्दी से किचन में चली गई. राज ने बाहर झाँक कर देखा ऑर फिर अंदर आकर दरवाज़े को लॉक कर लिया ऑर तेज़ी के साथ पायल की तरफ बढ़ा.

पायल ने अपने दोनो बाज़ू फैलाए ऑर बोली, आजा मेरे राजा मुझे अपनी बाहों में ले लो.

राज उसकी शर्ट बेड से उठा कर उसकी तरफ बढ़ाते हुए बोला, पायल आख़िर क्या हो गया है तुमको आज.

पायल : भैया मुझे क्या हुआ है वोही हुआ है ना जो आप ने किया है मुझे. मेरे कंवारे जिस्म में आपने प्यार की आग लगा दी है जो अब हर वक़्त सुलगती रहती है अब आप ही बताओ कि में ये अपनी प्यास कैसे बुझाऊ.

राज उसकी टी-शर्ट को उसके गले में डालते हुए बोला, में ही बुझाउन्गा तेरी प्यास लेकिन थोड़ा टाइम तो आने दे ना मेरी जान.

लेकिन पायल थी कि मेरे प्लान के मुताबिक़ राज के साथ चिपकती जा रही थी ऑर अपने बूब्स को उसके सीने के साथ रगड़ रही थी.


इतने में मैने बाहर दरवाज़े पर नॉक किया तो उस वक़्त पायल ने अपना हाथ राज के लंड पर रखा हुआ था. राज के तो जैसे होश ही उड़ गये. उस ने जल्दी से उसे परे किया ऑर उसे बाथरूम की तरफ धकेला. मैने आवाज़ दी कि राज क्या कर रहे हो दरवाज़ा खोला ना, ऑर ये पायल कहाँ चली गई है.

पायल अब भी बाथरूम में जाने का नाम नही ले रही थी ऑर राज से चिपकी जा रही थी. राज ने जल्दी से उसे खुद पर से हटाया ऑर उसे बाथरूम की तरफ धकेलने लगा. उसे बाथरूम में फैंकते हुए वो वापिस दरवाज़ी की तरफ भागा ऑर फिर डोर खोल दिया. में अंदर गई तो राज के चेहरे का रंग उड़ा हुआ था. वो काफ़ी घबराया हुआ लग रहा था. मैने उसके चेहरे की तरफ देखा ऑर बोली, क्या बात है राज ठीक तो हो ना तुम.

राज घबरा कर बोला, हां हाँ ठीक हूँ में कुछ नही हुआ मुझे.

में राज के क़रीब आई ऑर आहिस्ता से उसके साथ चिपक गई ऑर बोली,

क्या बात है जानू नाराज़ हो क्या मुझ से.

मेरी बात सुन कर वो थोड़ा रिलॅक्स हुआ ऑर बोला, नही नही नाराज़ तो नही हूँ बस ऐसे ही थोड़ा थका हुआ हूँ. मैने उसके गालों पर एक किस की ऑर अपना हाथ उसकी पॅंट के ऊपर से उसके लंड की तरफ ले जाती हुई बोली, आओ फिर में तुमको थोड़ा रिलॅक्स कर दूँ.

मैने देखा कि उसका लंड अभी भी अकडा हुआ है. में उसके लंड को उसकी पॅंट के ऊपर से ही अपनी मुट्ठी में लेते हुए बोली,

जानू तुम्हारा तो लंड भी फुल टेन्षन में है इसकी टेन्षन तो रिलीव करनी ही पड़े गी मुझे अभी. ये कहते हुए मैं नीचे फर्श पर बैठी ऑर उसकी पॅंट की बेल्ट खोलने लगी. राज ने थोड़ी सी मज़ाहीमत की लेकिन फिर खुद से ही अपनी पॅंट नीचे उतार दी.

मैने नीचे बैठ कर उसके लंड को अपने मुँह में लिया ऑर चूसने लगी. धीरे धीरे उसके ऊपर के हिस्से को अपनी ज़ुबान से चाट ती ऑर फिर उसे मुँह में ले कर चूसने लगती. मेरी कमर दरवाज़े की तरफ थी ऑर दरवाज़ा खुला हुआ ही था ऑर मुझे पता था कि अभी थोड़ी देर में पायल भी अंदर देखने लगे गी.

मैने अपना चेहरा ऊपर किया ऑर राज की तरफ देखने लगी. मुझे उसके चेहरे के एक्सप्रेशन्स से सॉफ पता चल रहा था कि पायल दरवाज़े में आ चुकी है. मेरी नज़र राज के पीछे पड़ी हुई ड्रेसिंग टेबल पर पड़ी तो उसके शीशे में मुझे पायल का अक्स नज़र आया.

पायल अब राज की तरफ देख रही थी ऑर राज की नज़र भी उसकी बहन के ऊपर ही थी. मैने देखा कि पायल ने दरवाज़ी में खड़े खड़े अपने बूब्स को सहलाना शुरू कर दिया ऑर फिर आहिस्ता से अपनी शर्ट को ऊपर करते हुए अपने बूब्स को एक्सपोज़ कर लिया.


जैसे ही राज की नज़र अपनी बहन के नंगे खूबसूरत बूब्स पर पड़ी तो उस ने अपने दोनो हाथ मेरे सिर के दोनो तरफ रखे ऑर मेरे सिर को पकड़ कर धक्के लगाते हुए मेरे मुँह को चोदना शुरू कर दिया. में भी उसकी बॉल्स को सहलाते हुए उसके लंड को चूस रही थी ऑर आज मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था.

राज धक्के मारते हुए बोला, ऑर चूस ऑर चूस जल्दी कर जल्दी से निकाल दे मेरा पानी.

मैने उसके लंड को अपने मुँह से बाहर निकाला ऑर फिर उसे अपनी मुट्ठी में आगे पीछे करती हुई बोली, लेकिन पायल घर पर ही है वो आ सकती है किसी भी वक़्त इस तरफ तो हमे देख ही ना ले.

राज अपनी बहन की तरफ देखता हुआ बोला, कुछ नही हो गा वो नही आए गी तुम बस जल्दी से चूसो मेरे लंड का पानी. उधर पायल अब अपनी टाइट्स के अंदर हाथ डाल कर अपनी चूत को सहला रही थी ऑर आँखे बंद किए हुए खुद को ऑर्गॅज़म पर ले जाने की कोशिश कर रही थी ऑर ये सब वो अपने भाई के सामने कर रही थी ताकि उसके भाई की प्यास ऑर भी बढ़ सके. ऑर हो भी ऐसा ही रहा था कि जैसे जैसे पायल की मस्ती बढ़ रही थी वैसे वैसे ही राज में भी जोश आता जा रहा था ऑर वो पहले से भी ज़ोर ज़ोर से धक्के मार रहा था ऑर अपना लंड मेरे मुँह के अंदर पेल रहा था.

जैसे ही राज झड़ने वाला हुआ तो मैने उसका लंड अपने मुँह से निकाला ऑर उठ गई कि नही अब मुझे किचन में जाना है बाद में करेंगे कुछ. पायल भी दरवाज़े से हट गई ऑर राज मुझे रोकता ही रह गया लेकिन में वहाँ से चली आई.




कुछ ही देर में राज भी चेंज कर के बाहर आ गया . उस ने अपना एक बर्म्यूडा पहन लिया हुआ था. पायल ने जैसे ही अपने भाई को देखा तो उसे अपनी नज़रों से ही छेड़ने लगी. में किचन में ही रही तो मुझे बता कर बाहर को निकली ऑर आँख मार कर बोली,

भाभी में अभी आई पायल भैया से मिल कर.

हम दोनो हँसने लगीं.

पायल बाहर गई तो राज टीवी लाउंज में बैठ कर ही टीवी देख रहा था. पायल सीधी जा कर उसकी गोद में बैठ गई. राज घबरा गया ऑर उसे अपनी गोद से हटाने की कोशिश करने लगा किचन की तरफ देखते हुए. लेकिन पायल कहाँ मान ने वाली थी.

पायल : क्या बात है भैया एक ही दिन में आप का दिल मुझ से भर गया है अब तो आप मुझ से दूर भाग रहे हो ऑर थोड़ी देर पहले कैसे भाबी के साथ मज़े कर रहे थे. क्या में आप को अच्छी नही लगती अब.


राज: नही नही पायल ऐसी बात नही है वो बस तुम्हारी भाभी भी क़रीब ही हैं ना तो इस लिए डर लगता है. उसे कहीं जाने दो फिर देखना कैसे चोदता हूँ में तुम को.

ये कहते हुए राज ने एक बार तो अपनी बहन के दोनो बूब्स को अपने हाथो में ले कर दबा ही दिया . पायल ने भी मस्त होते हुए अपने गर्म गर्म गुलाबी होंठ आगे बढ़ाए ऑर अपने भाई के होंठो पर रख दिए ऑर उसे चूमने लगी. थोड़ी देर के लिए तो राज भी अपनी बहन की गरम जवानी में सब कुछ भूल गया ऑर पायल के होंठो को चूमने लगा लेकिन साथ ही उसे ख़याल आ गया मेरा ऑर फिर उस ने खुद को अपनी बहन के जवान जिस्म से अलग कर लिया.


कुछ ही देर में मैने ऑर पायल ने टेबल पर खाना लगा दिया ऑर फिर हम सब टेबल पर बैठ कर खाना खाने लगे. खाने के दोरान भी पायल मेरे इशारे पर टेबल के नीचे से ही अपने पैर के साथ अपने भाई को टीज करती रही ऑर जब भी मौका मिलता तो उसके लंड को अपने पैर से टच करती. ऑर हर बार राज खुद को मेरी नज़रों से बचाने की कोशिश कर रहा था.

खाना खाते हुए ही हम ने शाम को मूवी के लिए चलने का प्लान बना लिया. जिस को राज ने भी मान लिया. फिर खाने के बाद कुछ देर के लिए हम लोग रेस्ट के लिए लेट गये.
शाम को हम मूवी देखने जाने के लिए तैयार होने लगे तो में पायल के पास आई ऑर बोली, कि आज तू ने बहुत ही हॉट ओर सेक्सी ड्रेस पहन ना है.


पायल : तो भाभी क्या में ब्रा ऑर पैंटी में ही ना चली चलूं

पायल मुझे आँख मार कर बोली.

में: तुझे मैने सिर्फ़ तेरे भाई से चुदवाना है पूरे शहर से नही.

हम दोनो हँसने लगीं.

में: देख सिनिमा हॉल में खुल कर उसे तंग करना है ऑर तड़पाना है. एक तरफ तेरे हुश्न ऑर शरारत की वजह से उसका लंड अकड़ता जाय ओर दूसरी तरफ मेरे डर से उसकी फॅट ती जाए बस. वो कुछ करना चाहे मगर कुछ भी ना कर सके.

पायल : ठीक है भाभी ऐसा ही हो गा.

फिर मैने पायल के लिए एक ब्लॅक टाइट लेगिंग सेलेक्ट की जो कि उसके जिस्म के साथ बिल्कुल ही चिपकने वाली थी. उसके साथ जो टॉप सेलेक्ट किया वो एक टी-शर्ट थी जो कि नीचे तक लंबी थी ऑर उसके हिप्स को कवर करती थी. लेकिन सिर्फ़ हाफ थाइस तक रहती थी. उसका गला भी थोड़ा सा डीप था जिस में से उसका क्लीवेज नज़र आता था.

मैने उसे कहा चल अब इसे पहन ले मेरे सामने.

पायल : भाभी आपके सामने कैसे????? वो शर्मा कर बोली,


में: वाह भी वाह अपने भाई से तो नंगी हो कर चुदवाती है ऑर अब भी नंगी होने को तैयार हो लेकिन मेरे सामने नंगी होते हुए तुम को शर्म आती है. अभी सुबह ही तो तेरी मलाई खाई है मैने वो भूल गई हो क्या .

पायल भी हँसने लगी ऑर फिर उस ने अपनी पहनी हुई शर्ट उतार दी.

नीचे उस ने जो ब्रा पहनी हुई थी वो भी उस ने उतारी ऑर फिर उसके दोनो खूबसूरत बूब्स नंगे हो गये. मैने झट से आगे बढ़ कर उसके दोनो बूब्स को पकड़ लिया ऑर उन को चूमने लगी.

में: उफफफफफफफफफफफफफफफफफफफ्फ़ पायल तेरे बूब्स कितने सेक्सी हैं.

पायल : एक तो भाभी में आप ऑर भैया से बहुत तंग हूँ जब भी जहाँ भी मौका मिलता है आप लोग मुझ बेचारी को पकड़ लेते हुए अपनी प्यास बुझाने के लिए ऑर इसी चक्कर में मेरी प्यास बढ़ा देते हो.

मैने हँसते हुए पायल को छोड़ दिया ऑर वो अपनी दूसरी ब्रा पहन ने लगी तो मैने उसे मना कर दिया कि आज बिना ब्रा के ही चलो तुम.

पायल ने एक नज़र मेरी तरफ देखा ऑर फिर अपनी ब्रा वापिस अलमारी में रख दी ऑर बिना ब्रा के ही वो टी-शर्ट पहन ली. उसकी टी-शर्ट भी बहुत टाइट थी ऑर बिल्कुल उसके जिस्म के साथ चिपक गई हुई थी. उसके दोनो बूब्स बहुत ही सेक्सी लग रहे थे.

फिर पायल ने अपनी टाइट्स पहनी तो वो भी उसकी थिग्स ऑर चूत के एरिया में उसके जिस्म के साथ बिल्कुल चिपक गई. मैने उसकी थिग्स पर हाथ फेरा तो एक लम्हे के लिए मेरी अपनी नीयत भी खराब होने लगी लेकिन मैने खुद को कंट्रोल किया ऑर फिर उसके बूब्स को सहलाया ऑर उसके निपल्स पर उंगली फेरी तो उसके निपल्स अकड़ने लगे ऑर अब बिल्कुल सॉफ उसकी शर्ट में से नज़र आ रहे थे. उसके निपल्स को अपनी उंगलियो के बीच मसल्ते हुए मैने अपने होंठ उसके होंठो पर रखे ऑर उसे किस करने लगी ऑर उसके लिप्स को चूसना शुरू कर दिया. पायल भी मस्ती के हाथो मजबूर हो कर मेरा साथ देने लगी. चाँद लम्हो तक एक दूसरी को किस करने ऑर एक दूसरी के लिप्स चूसने के बाद में अलग हुई ऑर बोली कुछ देर में तुम भी मेरे कमरे मे आ जाओ ऑर मेक अप कर लेना. फिर में अपने कमरे में चली गई.


राज बेड पर लेटा हुआ था तैयार हो कर मैने भी अपने लिए टाइट्स ऑर एक थोड़ी लूज कमीज़ निकाल ली तभी पायल भी कमरे में आ गई . जैसे ही राज की नज़र पायल पर पड़ी तो उसकी आँखे चमक उठी ऑर मुँह एकदम से खुला रह गया. में दोनो बहन भाई को थोडा प्यार का मौका देने के लिए अपने कपड़े ले कर बाथ रूम में चली गई ऑर फिर अंदर से झाँकने लगी. जैसे ही बाथरूम का दरवाज़ा बंद हुआ तो राज जंप लगा कर उठा ऑर ड्रेसिंग टेबल के सामने खड़ी हुई अपनी बहन के पीछे आ गया ऑर पीछे से ही उसे दबोच लिया ऑर उसके दोनो टाइट बूब्स को पकड़ कर सहलाते हुए उसकी गर्दन को चूमने लगा.

पायल : उफफफफफफफफ्फ़ भैया क्या है ना आप को प्लीज़ छोड़ दो भाभी आ जाएँगी तो पता नही क्या कर दें गी.

राज: उूुुुुउउफफफफफफफफफफफफफफफफफ्फ़ ज़ालिम क्या हुश्न है तेरा अब तो तुझे छोड़ने को नही बल्कि चोदने को दिल करता है. री तू ने तो आज नीचे से ब्रस्सिएर भी नही पहनी हुई. क्यूँ मुझे क़तल करने का प्रोग्राम बनाया हुआ है तू ने.

राज ने पायल की शर्ट को नीचे से थोड़ा ऊपर उठाया ऑर उसके हिप्स को नंगा कर लिया ऑर उसकी टाइट्स के ऊपर से उसकी गान्ड पर हाथ फेरने लगा ऑर फिर अपना हाथ आगे ले जा कर उसकी चूत को सहलाने लगा.

मैने अपने कपड़े चेंज किए ऑर फिर थोड़ा सा शोर कर के बाहर को निकली तो तब तक राज वापिस बेड पर लेट चुका था लेकिन पायल ने अपनी टी-शर्ट को अपने हिप्स से नीचे नही किया था ऑर उसकी टाइट लेग्गी में उसके दोनो हिप्स बहुत ही सेक्सी अंदाज़ में नंगे हो रहे थे.


में भी पायल के पास ही आ गई ऑर मेक अप करने लगी. मैने थोड़ी ऊँची आवाज़ में कहा ताकि राज भी सुन सके,

अरे पायल ये तुम ने कैसा ड्रेस पहन लिया है क्या ये पहन कर जाओ गी बाहर.

पायल अपने आगे पीछे देखते हुए बोली, क्यूँ भाभी क्या है इस में बुराई.

मैने राज को इन्वॉल्व करते हुए कहा, क्यूँ राज ये ड्रेस ठीक है क्या .

राज ने एक नज़र अपनी बहन की तरफ देखा ऑर फिर बोला, हां ठीक है बस अब चेंज करने के चक्कर में ना पड़ जाना पहले ही बहुत देर हो रही है शो के लिए.

मैने मुस्करा कर पायल की तरफ देखा तो उस ने भी मुझे एक आँख मारी ऑर फिर हम लोगों ने फाइनल टचस अपने मेक अप को दिए ओर फिर बाहर निकल आईं जहाँ राज अपनी बाइक लिए तैयार खड़ा था. पहले की तरह ही मैने पायल को सेंटर में बैठाया राज के बिल्कुल पीछे ऑर खुद उस से पीछे बैठ गई ऑर उसे आगे को पुश करती हुई बोली, यार थोड़ा सा आगे हो कर मुझे तो जगह दो ना.



Payal ko is halat men dekh kar Raj ki to jaise phat kar haath men aa gai ho. uske chehare ka rang ur gaya or maathe par paseena behne laga. wo foran hi darwazy ki taraf bhaga men jaldi se kitchen men chali gai. Raj ne bahar jhaank kar dekha or phir andar aakar darwazay ko lock kar liya or tezi ke saath Payal ki taraf badha.

Payal ne apne dono bazoo phailaaye or boli, aaja mere raaja mujhe apni bahon men le lo.

Raj uski shirt bed se uthaa kar uski taraf badhate hue bola, Payal aakhir kya ho gaya hua hai tumko aaj.

Payal : bhaiya mujhe kya huna hai wohi hua hai na jo aap ne kya hai mujhe. mere kanwaare jism men apne pyaar ki aag lagaa di hai jo ab har waqt sulagti rahti hai ab aap hi bataao ke men ye apni pyaas kaise bujhaaoun.

Raj uski t-shirt ko uske gale men daalte hue bola, men hi bujhaoun ga teri pyaas lekin thoda time to aane de na meri jaan.

Lekin Payal thi ke mere plan ke mutabiq Raj ke sath chipakti jaa rahi thi or apne boobs ko uske seene ke saath ragad rahi thi.


itne men maine bahar darwazy par knock kya to us waqt Payal ne apna haath Raj ke lund par rakh diya hua tha. Raj ke to jaise hosh hi ur gaye. us ne jaldi se use pade kya or use bathroom ki taraf dhakaila. maine awaz di ke Raj kya kar rahe ho darwaza khola na, or ye Payal kaha chali gai hai.

Payal ab bhi bathroom men jaane ka naam nahi le rahi thi or Raj se chipki jaa rahi thi. Raj ne jaldi se use khud par se hataya or use bathroom ki taraf dhakailne laga. use bathroom men phainkte hue wo wapis darwazy ki taraf bhaga or phir door khol diya. men andar gai to Raj ke chehare ka rang uda hua tha. wo kaafi ghabraya hua lag raha tha. maine uske chehare ki taraf dekha or boli, kya baat hai Raj theek to ho na tum.

Raj ghabra kar bola, haan haan theek hoon men kuch nahi hua mujhe.

Men Raj ke qareeb aai or ahista se uske saath chipak gai or boli,

kya baat hai jaanu naaraaz ho kya mujh se.

Meri baat sun kar wo thoda relax hua or bola, nahi nahi naaraz to nahi hoon bus aise hi thoda thaka hua hoon. maine uske gaalon par ek kiss ki or apna haath uski pant ke oopar se uske lund ki taraf le jaati hui boli, aao phir men tumko thoda relax kar doon.

maine dekha ke uska lund abhi bhi akara hua hai. men uske lund ko uski pant ke oopar se hi apni mutthi men lete hue boli,

jaanu tumhara to lund bhi full tension men hai iski tension to relieve karni hi pade gi mujhe abhi. ye kahte hue maine eche farsh par baithi or uski pant ki belt kholne lagi. Raj ne thodi si mazahimat ki lekin phir khud se hi apni pant neeche utaar di.

Maine neeche baith kar uske lund ko apne munh men liya or choosne lagi. dheere dheere uske oopar ke hisse ko apni zubaan se chaat ti or phir use munh men le kar choosne lagti. meri kamar darwazy ki taraf thi or darwaza khula hua hi tha or mujhe pata tha ke abhi thodi der men Payal bhi andar dekhne lage gi.

maine apna chehra oopar kya or Raj ki taraf dekhne lagi. mujhe uske chehare ke expressions se saaf pata chal raha tha ke Payal darwazy men aa chuki hai. mairi nazar Raj ke peeche padi hui dressing table par padi to uske sheeshy men mujhe Payal ka aks nazar aaya.
Payal ab Raj ki taraf dekh rahi thi or Raj ki nazar bhi uski bahan ke oopar hi thi. maine dekha ke Payal ne darwazy men khare khare apne boobs ko sahlaana shuru kar diya or phir ahista se apni shirt ko oopar karte hue apne boobs ko expose kar liya.


jaise hi Raj ki nazar apni bahan ke nange khoobsoorat boobs par padi to us ne apne dono haath mere sir ke dono taraf rakhe or mere sir ko pakad kar dhake lagate hue mere munh ko chodanaaa shuru kar diya. men bhi uski balls ko sahlaate hue uske lund ko choos rahi thi or aaj mujhe bhi bahut maza araha tha.

Raj dhakke marte hue bola, or choos or choos jaldi kar jaldi se nikaal de mera paani.

Maine uske lund ko apne munh se bahar nikala or phir use apni mutthi men aage peeche karti hui boli, lekin Payal ghar par hi hai wo aa sakti hai kisi bhi waqt is taraf to hame dekh hi na le.

Raj apni behn ki taraf dekhta hua bola, kuch nahi ho ga wo nahi aaye gi tum bus jaldi se chooso mere lund ka paani. udhar Payal ab apni tights ke andar haath daal kar apni choot ko sahlaa rahi thi or aankhe band kee hue khud ko orgasm par le jaane ki koshish kar rahi thi or ye sab wo apne bhai ke saamne kar rahi thi taki uske bhai ki pyaas or bhi badh sake. or ho bhi aisa hi raha tha ke jaise jaise Payal ki masti badh rahi thi waise waise hi Raj men bhi josh aata jaa raha tha or wo pahle se bhi zor zor se dhake maar raha tha or apna lund mere munh ke andar pail raha tha.

jaise hi Raj jharne wala hua to maine uska lund apne munh se nikala or uth gai ke nahi ab mujhe kitchen men jaana hai baad men karen gaye kuch. Payal bhi darwazy se hat gai or Raj mujhe rokta hi rah gaya lekin men waha se chali aai.




kuch hi der men Raj bhi change kar ke bahar aa gaya . us ne apna ek bermuda pehan liya hua tha. Payal ne jaise hi apne bhai ko dekha to use apni nazron se hi chaidne lagi. men kitchen men hi rahi to mujhe bata kar bahar ko nikli or aankh maar kar boli,

bhabhi men abhi aai Paayal bhaiya se mil kar.

hum dono hansane lagin.

Payal bahar gai to Raj tv lounge men baith kar hi tv dekh raha tha. Payal seedhi jaa kar uski goud men baith gai. Raj ghabraa gaya or use apni goud se hataane ko koshish kare laga kitchen ki taraf dekhte hue. lekin Payal kaha maan ne wali thi.

Payal : kya baat hai bhaiya ek hi din men aap ka dil mujh se bhar gaya hai ab to aap mujh se door bhaag rahe ho or thodi der pahle kaise bhabi ke saath maze kar rahe the. kya men aap ko achhi nahi lagti ab.


Raj: nahi nahi Payal aisi baat nahi hai wo bus tumhari bhabhi bhi qareeb hi hain na to is liye dar lagta hai. use kahin jaane do phir dekhna kaise chodta hun men tum ko.

Ye kahte hue Raj ne ek baar to apni bahan ke dono boobs ko apne haathun men le kar dabaa hi diya na. Payal ne bhi mast hote hue apne garm garm gulaabi honth aage badhe or apne bhai ke hontho par rakh diye or use choomne lagi. thodi der ke liye to Raj bhi apni bahan ki garam jawani men sab kuch bhool gaya or Payal ke hontho ko choomne laga lekin saath hi use khayal aa gaya mera or phir us ne khud ko apni bahan ke jawan jism se alag kar liya.


kuch hi der men maine or Payal ne table par khana laga diya or phir hum sab table par baith kar khaana khaane lage. khaane ke doraan bhi Payal mere ishaare par table ke neeche se hi apne pair ke saath apne bhaai ko taise karti rahi or jab bhi mouka milta to uske lund ko apne pair se touch karti. or hr baar Raj khud ko meri nazroon se bachaane ki koshish kar raha tha.

khaana khaate hue hi hum ne shaam ko movie ke liye chalne ka plan bana liya. jis ko Raj ne bhi maan liya. phir khaane ke baad kuch der ke liye hum log rest ke liye let gaye.
Shaam ko hum movie dekhne jaane ke liye taiyar hone lage to men Payal ke paas aai or boli, ke aaj tu ne bahut hi hot or sexy dress pahan na hai.


Payal : to bhabhi kya men bra or pante men hi na chali chaloon

Payal mujhe aankh maar kar boli.

Men: tujhe maine sirf tere bhai se chudwana hai poore shahar se nahi.

hum dono hansane lagin.

Men: dekh cinema hall men khul kar use tang karna hai or tarpana hai. ek taraf tere hushn or sharart ki wajah se uska lund akadta jaay or doosri taraf mere dar se uski phat ti jaaye bus. wo kuch karna chaahe magar kuch bhi na kar sake.

Payal : theek hai bhabhi aisa hi ho ga.

phir maine Payal ke liye ek black tight legging select ki jo ke uske jism ke saath bilkul hi chipakne wali thi. uske saath jo top select kya wo ek t-shirt te pe thi jo ke neeche tak lambi thi or uske hips ko cover karti thi. lekin sirf half thighs tak rahti thi. uska gala bhi thoda sa deep tha jis men se uska cleavage nazar aata tha.

Maine use kaha chul ab ise pahan le mere saamne.

Payal : bhabhi aapke saamne kaise????? wo sharma kar boli,


Men: wah bhi wah apne bhai se to nangi ho kar chudwati hai or ab bhi nangi hone ko taiyar ho lekin mere saamne nangi hote hue tum ko sharm aati hai. abhi subah hi to teri malaai khaai hai maine wo bhool gai ho kya .

Payal bhi hansane lagi or phir us ne apni pahani hui shirt utaar di.

neeche us ne jo bra pahani hui thi wo bhi us ne utaari or phir uske doono khoobsoorat boobs nange ho gaye. maine jhat se aage badh kar uske dono boobs ko pakad liya or un ko choomne lagi.

Men: uffffffffffffffffffff Payal tere boobs kitne sexy hain.

Payal : ek to bhabhi men aap or bhaiya se bahut tang hoon jab bhi jahann bhi mouka milta hai aap log mujh bechaari ko pakad lete hue apni pyaas bujhaane ke liye or isi chakkar men meri pyaas badha dete ho.

Maine hansate hue Payal ko chod diya or woh apni doosri bra pahan ne lagi to maine use mana kar diya ke aaj bina bra ke hi chalo tum.

Payal ne ek nazar meri taraf dekha or phir apni bra wapis almaari men rakh di or bina bra ke hi wo t-shirt pahan li. uski t-shirt bhi bahut tight thi or bilkul uske jism ke saath chipak gai hui thi. uske dono boobs bahut hi sexy lag rahe the.

Phir Payal ne apni tights pahani to woh bhi uski thigs or choot ke area men uske jism ke saath bilkul chipak gai. maine uski thigs par haat phera to ek lamhe ke liye meri apni neaat bhi kharab hone lagi lekin maine khud ko control kya or phir uske boobs ko sahlaaya or uske nipples par ungli pheri to uske nipples akarne lage or ab bilkul saaf uski shirt men se nazar aa rahe the. uske nipples ko apni ungleoon ke beech masalte hue maine apne honth uske hontho par rakhe or use kiss karne lagi or uske lips ko choosna shuru kar diya. Payal bhi masti ke haatho majboor ho kar mera saath dene lagi. chand lamho tak ek doosri ko kiss karne or ek doosri ke lips choosne ke baad men alag hui or boli kuch der men tum bhi mere kamare aajao or make up kar lena. phir men apne kamare men chali gai.


Raj bed par leta hua tha taiyar ho kar Maine bhi apne liye tights or ek thodi loose kameez nikaal li tb hi Payal bhi kamare men aa gai . jaise hi Raj ki nazar Payal par padi to uski aankhe chamak uthi or munh ekdam se khula rah gaya. men dono bahan bhai ko thoda pyaar ka mouka dene ke liye apne kapade le kar bath room men chali gai or phir andar se jhaankne lagi. jaise hi bathoom ka darwaza band hua to Raj jump laga kar utha or dressing table ke saamne khadi hui apni bahan ke peeche aa gaya or peeche se hi use daboch liya or uske dono tight boobs ko pakad kar sahlaate hue uski gardan ko choomne laga.

Payal : ufffffffff bhaiya kya hai na aap ko plz chod do bhabhi aa jaayengeeto pata nahi kya kar den gi.

Raj: uuuuuuuuffffffffffffffffff zalim kya hushn hai tera ab to tujhe chodne ko nahi balki chodane ko dil karta hai. ry tu ne to aaj neeche se brassier bhi nahi pahani hui. kyun mujhe qatal karne ka parograme banaya hua hai tu ne.

Raj ne Payal ki shirt ko neeche se thoda oopar uthaya or uske hips ko nanga kar liya or uski tights ke oopar se uski gaanD par haath pherne laga or phir apna haath aage le jaa kar uski choot ko sahlaane laga.

Maine apne kapade change kee or phir thoda sa shor kar ke bahar ko nikli to tab tak Raj wapis bed par let chuka tha lekin Payal ne apni t-shirt ko apne hips se neeche nahi kya tha or uski tight leggaye men uske dono hips bahut hi sexy andaz men nange ho rahe the.


Men bhi Payal ke paas hi aa gai or make up karne lagi. maine thodi oounch awaaz men kaha taki Raj bhi sun sake,

are Payal ye tum ne kaisa dress pahan liya hai kya ye pahan kar jaao gi bahar.

Payal apne aage peeche dekhte hue boli, kyun bhabhi kya hai is men buraai.

Maine Raj ko involve karte hue kaha, Kyun Raj ye dress theek hai kya .

Raj ne ek nazar apni bahan ki taraf dekha or phir bola, haan theek hai bus ab change karne ke chakkar men na par jaana pahle hi bahut der ho rahi hai show ke liye.

Maine muskaraa kar Payal ki taraf dekha to us ne bhi mujhe ek aankh maari or phir hum logon ne final touches apne make up ko diye or phir bahar nikal aain jahann Raj apni bike liye taiyar khada tha. pahle ki tarah hi maine Payal ko centre men baithaya Raj ke bilkul peeche or khud us se peeche baith gai or use aage ko push karti hui boli, yaar thoda sa aage ho kar mujhe to jagah do na.
User avatar
Dolly sharma
Silver Member
Posts: 472
Joined: 03 Apr 2016 16:34
Contact:

Re: मासूम ननद

Postby Dolly sharma » 14 Jan 2017 16:06

राज को तो पहले ही पता था कि उसकी बहन ने नीचे से ब्रा नही पहनी हुई ऑर अब जब उस ने अपने बूब्स उसकी कमर से लगाए तो उसे ऐसे लग रहा था कि जैसे उसकी बहन के दोनो बूब्स बिल्कुल ही नंगे उसकी कमर पर लगे हुए हों. पायल ने अपना एक हाथ आगे किया ऑर उसे राज की जाँघ पर रख दिया ऑर फिर हम चल पड़े. थोड़ा थोड़ा अंधेरा हो रहा था. कुछ ही देर में पायल का हाथ फिसलता हुआ अपने भैया के लंड पर आ गया ऑर उस ने अपने भाई के लंड पर अपना हाथ रखा ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसको सहलाने लगी. पीछे से वो अपने होंठो को राज की गर्दन पर टच कर रही थी कभी कभी मौका देख कर उसे चूम लेती नेक पर. राज की हल्की सी आवाज़ मेरे कान में भी आई, ना कर तेरी भाभी पीछे ही बैठी है. तभी मैने भी सहारा लेने के लिए अपना हाथ आगे किया ऑर राज की थाइ पर रख दिया. एक लम्हे के लिए तो राज जैसे घबरा ही गया लेकिन फिर खुद को संम्भाल लिया. इसी तरह से में ऑर पायल राज को तंग करती हुई सिनिमा पहुँच गई.

रात का लास्ट शो था 10 बज चुके हुए थे ऑर हर तरफ अंधेरा हो रहा था. शो शुरू हो चुका हुआ था इस लिए ज़्यादा रश नही नज़र आ रहा था. राज ने गॅलरी के तीन टिकेट्स लिए ऑर हम ऊपर गॅलरी में आगे. वहाँ गॅलरी में भी बहुत कम लोग ही बैठे हुए थे. बल्कि सिर्फ़ दो कपल्स वो भी सब से अलग अलग हो कर दूर दूर बैठे थे. हम ने भी एक कॉर्नर में अपनी जगह बना ली. हॉल में बहुत ही ज़्यादा अंधेरा था. राज की बीच में बैठा कर में ऑर पायल उसके दोनो तरफ बैठ गई.


राज थोड़ा थोड़ा घबराया हुआ था. कुछ ही देर गुज़री कि मैने अपना सिर राज के कन्धेपर रख दिया ऑर अपना एक हाथ राज के बाज़ू पर रख कर आहिस्ता आहिस्ता उसके बाज़ू को सहलाने लगी. राज भी मेरी तरफ तवज्जो दे रहा था. उस ने अपना एक बाज़ू मेरी गर्दन के पीछे से डाला ऑर मेरे दूसरी तरफ के शोल्डर पर रख दिया ऑर धीरे धीरे मेरे बाज़ू को सहलाने लगा. मैने अब अपना हाथ राज की थाइ पर रख दिया ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसकी थाइ को सहलाने लगी. मेरा हाथ उसके लंड की तरफ बढ़ रहा था. दूसरी तरफ से पायल ने अपना सिर अपने भाई के कंधे पर रखा हुआ था.

जैसे ही मेरा हाथ राज के लंड की तरफ बढ़ा तो उस ने मेरा हाथ पकड़ लिया ऑर बहुत ही आहिस्ता से मेरे कान में बोला, क्या कर रही हो पायल बिल्कुल साथ बैठी है उस ने देख लिया तो बहुत बुरा हो गा.

लेकिन मैने अपना हाथ आगे बढ़ा कर उसके लंड के उभार पर रखा ऑर उसे मुट्ठी में ले कर होले होले दबाते हुए बोली, बहुत अंधेरा है वो नही देख पाएगी. ये कहते हुए मैने उसके लंड को सहलाना शुरू कर दिया. मेरे हाथ के टच से उसका लंड उसकी पॅंट के अंदर अकड़ने लगा.

मैने उसके चेहरे को अपनी तरफ मोड़ा ऑर फिर अपने होंठ राज के होंठो पर रख दिए ऑर आहिस्ता आहिस्ता उसे चूमने लगी. राज ने अपने होंठ पीछे हटाने चाहे तो मैने फॉरन ही उसके दोनो होंठो को अपने लिप्स में जकड लिया ऑर अपनी ज़ुबान भी उसके मुँह के अंदर डाल दी. राज भी मस्त होता जा रहा था ओर उसकी मस्ती का अंदाज़ा मुझे उसकी पॅंट के अंदर उसके अकड़ते हुए लंड से हो रहा था.


मैने अपना हाथ हटाया ऑर राज के सीने पर रख कर उसे सहलाने लगी उतनी देर में पायल ने अपना हाथ राज के लंड पर रखा ऑर उसे दबाने लगी. राज की तो हालत ही पतली हो रही थी दो दो खूबसूरत ऑर जवान लड़कियों के साथ मस्ती करते हुए. राज ने अपने हाथ से पायल का हाथ पकड़ कर अपने लंड से हटाना चाहा तो पायल उसके कान में बोली,

भैया क्या बात है अपनी बीवी को तो मज़ा दे रहे हो लेकिन अपनी बहन को महरूम रख रहे हो.


जैसे ही में अपना हाथ नीचे दोबारा उसके लंड पर ले कर गई तो फॉरन ही पायल ने अपना हाथ हटा लिया. मैने दोबारा से राज के लंड को अपने हाथ में लिया ऑर उसे दबाने के बाद उसकी पॅंट की ज़िप खोलने लगी. राज ने कोई मज़िमत नही की क्योंकि उसे पता था कि में उसकी बात नही मानूँगी. मैने उसके लंड को उसकी पॅंट की ज़िप के रास्ते बाहर निकाला ऑर अब सिनिमा हाल में अपनी बीवी ऑर बहन के बीच में बैठे हुए राज का लंड बिल्कुल नंगा हो चुका था.

राज के नंगे लंड को मैने अपने हाथ में लिया ऑर उसे सहलाने लगी. धीरे धीरे उसका लंड ऑर भी अकड़ता जा रहा था. दूसरी तरफ से पायल ने अपने भाई का एक हाथ पकड़ा ऑर उसे अपने बूब्स पर रख दिया ऑर आहिस्ता आहिस्ता अपनी बहन के बिल्कुल स्टिफ ऑर सीधे आकड़े हुए बूब्स को दबाने लगा. पायल भी आँखे बंद किए हुए अपने भाई से अपने बूब्स को दब्वाने का मज़ा ले रही थी.

नसरीर का दूसरा हाथ मैने खींच कर अपनी चूत के ऊपर रख दिया. राज ने फॉरन ही मेरी चूत को अपनी मुट्ठी में ले लिया ऑर उसे पहले तो दबाने ऑर फिर आहिस्ता आहिस्ता सहलाने लगा. कुछ ही देर में खुद ही से राज ने अपना हाथ मेरे पाजामी के अंदर डाला ऑर फिर मेरी नंगी चूत को सहलाना शुरू कर दिया. मेरा भी मज़े से बुरा हाल होने लगा हुआ था ऑर मेरी आँखे बंद हो रही थी . मैने अंधेरे में ही दूसरी तरफ देखा तो उधर भी राज ने अपना हाथ अपनी बहन की टाइट्स के अंदर डाला हुआ था ऑर उसकी चूत को सहला रहा था.

हाउ मच लकी राज वाज़, कि एक ही वक़्त में अपनी बीवी ऑर अपनी बहन की चूत को सहला रहा था ऑर उन में अपनी उंगलियाँ डाल कर दोनो को एक ही वक़्त में मज़े दे रहा था. राज की उंगलियाँ मेरी चूत के दाने को सहला रही थी ऑर मेरी आँखे एक बार फिर से बंद हो चुकी हुई थी . में अपनी मंज़िल के क़रीब पहुँचती जा रही थी ऑर किसी भी वक़्त में मेरी चूत पानी छोड़ने वाली थी ऑर मेरी भी कोशिश थी कि जल्दी से जल्दी मेरी चूत का पानी निकल जाए ऑर मेरा जिस्म रिलॅक्स हो जाय लेकिन अचानक ही कुछ यू हुआ कि फिल्म का इंटेरवाल हो गया ऑर हाल की लाइट्स जलना शुरू हो गई. हम तीनों जल्दी से सीधे हो कर बैठे. राज ने मेरी ऑर पायल की चूत पर से अपना हाथ हटा लिया ऑर फिर जल्दी से अपने लंड को अपनी पॅंट के अंदर कर लिया. हम तीनो ही घबराए हुए थे ऑर फिर कुछ ही देर में में मुस्करा कर राज की तरफ देखने लगी ऑर वो भी मुस्करा दिया. राज की नज़र बचा कर मैने पायल को आँख मार दी ऑर वो भी मुस्करा दी. राज थोड़ा शर्मिंदा शर्मिंदा लग रहा था.

कुछ देर बार में उठी ऑर टाय्लेट में जाने का कह कर बाहर आ गई लेकिन उन दोनो बहन भाई में से कोई भी मेरे साथ बाहर नही आया. जैसे ही में टाय्लेट से फारिघ् हो कर बाहर आई ऑर हॉल की तरफ जाने लगी तो अचानक से ही किसी ने मुझे पीछे से आवाज़ दी.

भाभी......... भाभी...........

मैने चौंक कर पीछे मूड कर देखा तो हमारे पड़ोसी का लड़का जय पीछे से मेरी तरफ आ रहा था. उसे अचानक से देख कर में थोड़ा परेशान सी हो गई.

जय हमारा बिल्कुल नेक्स्ट डोर नेबर था. अभी तो वो पूरी तरह से जवान भी नही हुआ था ऑर किसी लड़के की तरह ही कम उमर लगता था. काफ़ी हद तक शर्मीला ऑर सब लोगो से अलत थलग रहने वाला लड़का था. मोहल्ले में भी कभी उसको किसी के पास खड़े हुए नही देखा था ऑर ना कभी उसकी किसी लड़की तो क्या किसी दूसरे लड़के के साथ दोस्ती के बारे में भी नही सुना था. बहुत ही प्यारा खूबसूरत, भोला भाला शर्मीला ऑर शरीफ लड़का था मोहल्ले का.

जय मेरे पास आया ऑर बोला, भाबी आप यहाँ क्या कर रही हो.

मैने मुस्करा कर उसे देखा ऑर बोली, बस वो हम सब भी मूवी देखने आए हुए थे लेकिन तुम यहाँ क्या कर रहे हो सिनिमा में इस वक़्त. क्या अपनी ममा को बता के आए हो ऑर पापा को.

मैने उसे तंग करने के लिए कहा क्यूंकी उसको घर में ऑर मोहल्ले में अभी तक बिल्कुल एक बच्चे की तरह से ही ट्रीट किया जाता था ऑर था भी वो कुछ ऐसा ही. हमारे साथ वाले घर में वो अपनी मम्मी, पापा, भाई ऑर भाभी के साथ रहता था. उसके भाई की शादी थोड़ा अरसा पहले ही हुई थी.


जय मुस्करा कर बोला, जी जी भाभी में सब को बता कर ही आया हूँ घर पर कि मैं मूवी देखने जा रहा हूँ. आइए में आप को कोल्ड ड्रिंक पिलाता हूँ. मेरे इनकार के बावजूद वो भाग कर पास ही कॅंटीन पर गया ऑर दो कोल्ड ड्रिंक ले आया. फिर बोला, आओ भाभी अंदर चलते हैं इंटर्वल ख़तम हो चुका है ऑर मूवी भी शुरू हो चुकी है.



मैने जय से पूछा, तुम्हारे दोस्त कहाँ बैठे हैं. वो मुस्करा कर बोला, भाभी मेरा तो कोई भी दोस्त नही हैं में तो अकेला ही आया हूँ मूवी देखने चलो अब में आप लोगों के साथ ही बैठ कर देख लूँ गा.


अब में ऑर जय कोल्ड ड्रिंक्स सीप करते हुए अंदर की तरफ बढ़े तो अचानक से मुझे ख़याल आया कि में जय को राज ऑर पायल के पास कैसे ले जा सकती हूँ वो पता नही अभी किस हालत में बैठे हों तो इस तरह से जय को सब कुछ पता चल जाय गा ओर फिर उन दोनो बहन भाई को भी एंजाय करने का वक़्त नही मिले गा.


हम इतनी देर में हॉल में एंटर हुए तो अंदर बहुत ही अंधेरा था. जय बोला, भाभी कहाँ पर बैठे हैं राज भाई उधर ही चलते हैं.

मैने उसे कहा नही बहुत अंधेरा हो रहा है हम लोग इधर ही बैठ जाते हैं दोनो एक साइड पर. वो बोला, ठीक है भाभी मूवी के बाद उन से मिल लेंगे ऑर फिर एक साथ ही घर चलेंगे. वहाँ गॅलरी तो पूरी की पूरी खाली पड़ी हुई थी मैने जय को लिया ऑर एक तरफ हो कर बैठ गई. जय भी मेरे साथ की चेयर पर बैठ गया. हम दोनो मूवी देखते हुए कोल्ड ड्रिंक पीने लगे.

मैने जो कमीज़ पहनी हुई थी वो स्लिव्लेस्स थी ऑर मेरे शोल्डर्स ऑर नीचे से बाज़ू पूरे नंगे थे. हॉल में स्क्रीन पर चल रही मूवी की रोशनी में मेरे गोरे गोरे मुलायम बाज़ू बहुत चमक रहे थे. दूसरी तरफ जय ने एक हाफ स्लिव्लेस्स टी-शर्ट पहन रखी थी ऑर साथ में जीन्स.

कुछ ही देर में जय का नेक्ड बाज़ू मुझे अपनी नंगी मुलायम चिकनी बाज़ू से टच होता हुआ महसूस हुआ. मैने फॉरन से कोई भी रेस्पॉन्स नही दिया क्योंकि जय का नरम से पतले से बाज़ू का टच बहुत अच्छा फील हो रहा था मुझे अपने बाज़ू पर. उसके जिस्म का टच मुझे सीधा सीधा मेरे दिमाग़ पर असर करता हुआ महसूस हो रहा था. मैने भी अपने बाज़ू को हटाने की बजाय उसके बाज़ू के लांस को महसूस करना शुरू कर दिया.


जय को भी शायद अहसास हो गया था कि उसका बाज़ू मेरे बाज़ू से छू रहा है लेकिन में हटा नही रही हूँ तो वो भी चुप कर के बैठा रहा ऑर मेरे जिस्म के लांस को महसूस करता रहा.

कुछ ही देर के बाद जय ने अपने होंठो को मेरे गालों की तरफ लिया तो में तो जैसे चौंक ही पड़ी ऑर थोड़ा पीछे को हटी लेकिन उस ने आगे हो कर बोला, भाभी मेरी बात सुनिए, वो ऊँचा बोल रहा था लेकिन मूवी की हाइ साउंड में उसकी आवाज़ बहुत ही कम आ रही थी.

मैने अपना कान उसकी तरफ किया तो वो बोला, भाभी राज भाई परेशान हो रहे होंगे कि आप कहाँ रह गई हो उनको तो बता देती,

में: हां ये ठीक कहा तुम ने में उसे कॉल कर देती हूँ.


तभी मुझे अहसास हुआ कि में अपना सेल फोन तो अपने पर्स समेत वहीं पायल को दे आई थी.

मैने जय की तरफ मुँह किया ऑर अपने होंठ उसके कानो के क़रीब ले जा कर बताया के मेरे पास फोन नही है.

जय अपने होंठ मेरे कानों के पास लाया ऑर इस बार अपने होंठो को मेरे कानो से छूते हुए बात करने लगा,

भाबी आप मेरे सेल से कर लें कॉल.

ये बात मुकम्मल कर के जैसे ही वो पीछे हटा तो मुझे अहसास हुआ कि जैसे उस ने मेरे कान को होले से चूम लिया हो. लेकिन में श्योर नही थी इस लिए चुप रही.जय ने अपना सेल फोन मेरी तरफ बढ़ा दिया. मैने उस से सेल फोन लिया ऑर राज को कॉल कर के पूरी सिचुयेशन बता दी वो भी शायद खुश ही था कि उसे पायल के साथ एंजाय करने का टाइम मिल गया था. जिस दौरान में राज से फोन पर बात कर रही थी तो जय का बाज़ू तब भी मेरी नंगी चिकनी बाज़ू के साथ छू रहा था. अब मुझे थोड़ा थोड़ा अहसास हो रहा था कि ये बच्चा अब इंता भी बच्चा नही रहा है ऑर उसे औरत के जिस्म से मज़ा लेने का शौक शुरू हो गया है. में धीरे धीरे मुस्करा रही थी बिना उसे रोके या बिना उस से दूर हटे हुए.

कॉल करने के बाद भी मैने उसका सेल फोन उसे नही दिया था बल्कि मेरे हाथ में ही था फिर में उसके सेल की ब्रोज़िंग करने लगी. जय ने मुझे रोकना चाहा ऑर अपने होंठ मेरे कानो से छू कर ऑर अपना हाथ मोबाइल की तरफ बढ़ा कर बोला,

भाभी सेल दे दो मेरा अंदर ना देखें प्लीज़.

मैने सेल थोड़ा पीछे किया ऑर बोली, क्यूँ इस में तुम्हारी गर्ल फ्रेंड्स के नंबर्स हैं क्या .

वो चुप कर गया ऑर फिर बोला, नही भाभी मेरी तो कोई भी गर्ल फ्रेंड नही है.

मैने उसके सेल फोन की गेल्लेरी खोली तो उस में इमेजस को देखने लगी. मुख्त्लिफ फोटोस थे उसके कुछ घर वालों के थे. फिर जैसे ही मैने वीडियो गॅलरी खोली तो उस ने दोबारा फोन लेना चाहा लेकिन मैने हाथ पीछे को कर लिया ऑर उसका हाथ मेरे सीने के आगे से हो कर मोबाइल की तरफ बढ़ा तो उसके बाज़ू से मेरे बूब्स प्रेस हो गये.

ऊवप्प्प्प्प्स................. अरे अरे सीधे हो कर बैठो क्या कर रहे हो. देखने तो दो कॉन सी मूवीस हैं इस में रखी हुई तुम ने.


जय: नही नही भाभी कुछ नही है इस में प्लीज़ मुझे मेरा सेल फोन दे दें. ये कहते हुए उस ने मेरी एक नंगी बाज़ू पर पहली बार अपना हाथ रखा ऑर फिर मेरे बाज़ू को पकड़ कर दूसरे हाथ से अपने मोबाइल को पकड़ लिया इस दोरान एक बार फिर से उसके बाज़ू ने मेरे खूबसूरत तने हुए बूब को प्रेस कर दिया. लेकिन इस बार मैने उसका सेल फोन उसे दे दिया.


जय ने अपना सेल फोन अपनी पॉकेट में डाल लिया. में भी सीधी हो कर मूवी देखने लगी जैसे उसे थोड़ी नाराज़गी दिखा रही हूँ में.


जय ने दोबारा से अपना हाथ मेरे नंगे बाज़ू पर रखा ऑर आहिस्ता आहिस्ता मेरे नंगी बाज़ू को सहलाते हुए बोला, भाबी प्लीज़ आप नाराज़ हो रही हैं क्या .

ये कहते हुए उसके हाथ की उंगलियों ने मेरे बाज़ू के गिर्द चक्कर पूरा कर लिया अब उसके हाथ की उंगलियों की बॅक साइड मेरे बूब्स को छू रही थी. ऑर जैसे जैसे वो अपने हाथ को ऊपर नीचे को मूव करता तो उसके हाथ की उंगलियों की बॅक मेरे बूब्स को सहलाती जाती. मुझे भी इस में मज़ा आ रहा था लेकिन में अभी भी खामोश बैठी हुई थी.


वो थोड़ा सा मेरी तरफ दोबारा झुका ऑर अपने होंठो को मेरे नंगे शोल्डर पर रख कर बोला, प्लीज़ भाभी नाराज़ ना हों मैं दिखा दूँगा आपको सेल फोन लेकिन अभी तो मूवी ख़तम होने वाली है लेकिन कल में आपके घर आ कर दिखाउन्गा आपको फिर जो दिल चाहे देख लीजिएगा इस में से.

मैने अपना चेहरा मोड़ कर उसकी तरफ देखा तो उसके होंठ मेरे होंठो के बहुत क़रीब थे ऑर उसकी साँसें मेरे चेहरे पर फिर रही थी . उसकी गरम साँसों की वजह से मेरी चूत में कुछ होने लगा था ऑर मुझे थोड़ा गीला पन महसूस होने लगा था. उसके पतले पतले बोइश पिंक लिप्स को अपने इतना क़रीब देख कर मेरे होंठो पर भी हल्की सी मुस्कान फैल गई.


जय ने मुझे मुस्कराते देखा तो एकदम से जैसे उसे पता नही कितनी खुशी हुई कि उस ने आगे बढ़ कर अचानक से मेरे गाल को किस कर लिया ऑर बोला, ये हुई ना बात भाभी, यू आर माइ सो स्वीट भाबी.

ये कहते हुए उस ने अपना बाज़ू मेरे दूसरे कंधे की तरफ डाला ऑर मुझे अपनी तरफ खींच लिया अपने सीने की तरफ. में उस लड़के की हरकतें देख देख कर हैरान हो रही थी. फिर में बोली,

अरे अरे ये क्या कर रहे हो छोड़ो मुझे, ऑर ये किस क्यूँ किया तुम ने मुझे.

जय थोड़ा पीछे हटा लेकिन मेरे शोल्डर पर से अपना हाथ नही हटाया ऑर बोला, आप भी तो मेरी भाभी की तरह ही हो ना तो जब में उन से खुश होता हूँ तो उनको भी ऐसे ही हग करता हूँ.

उस पर में मुस्करा दी. बाक़ी मूवी के दोरान भी जय मेरा एक हाथ अपने दोनो हाथों में ले कर बैठा रहा ऑर उसे ना महसूस अंदाज़ में आहिस्ता आहिस्ता सहलाता रहा. मुझे भी उसके इस तरह से सहलाने से मज़ा आ रहा था. मुझे हैरत हो रही थी कि इतना मासूम ऑर भोला भाला नज़र आने वाला लड़का किस क़दर तेज है ऑर कितना उसको शौक है जवान ऑर खूबसूरत लड़कियों और औरतों को छूने का.




Raj ko to pehle hi pata tha ke uski bahan ne neeche se bra nahi pahani hui or ab jab us ne apne boobs uski kamar se lagaye to use aise lag raha tha ke jaise uski behn ke dono boobs bilkul hi nange uski kamar par lage hue hun. Payal ne apna ek haath aage kya or use Raj ki thigs par rakh diya or phir hum chal pade. thoda thoda andhera ho raha tha. kuch hi der men Payal ka haath phisalta ho apne bhaiya ke lund par aa gaya or us ne apne bhaai ke lund par apna haath rakha or ahista ahista usko sahlaane lagi. peeche se wo apne hontho ko Raj ki gardan par touch kar rahi thi kabhi kabhi mouka dekh kar use choom leti neck par. Raj ki halki si awaaz mere kaan men bhi aai, naa kar teri bhabhi peeche hi baithi hai. tbhi maine bhi sahaara lene ke liye apna haath aage kya or Raj ki thigh par rakh diya. ek lamhe ke liye to Raj jaise ghabraa hi gaya lekin phir khud ko sanmbhaal liya. isi tarah se men or Payal Raj ko tang karti hui cinema pahunch gai.

Raat ka last show tha 10 baj chuke hue the or har taraf andhera ho raha tha. show shuru ho chuka hua tha is liye jyaada rush nahi nazar aa raha tha. Raj ne gallery ke teen tickets liye or hum oopar gallery men aage. waha gallery men bhi bahut kam log hi baithe hue the. balki sirf do couples wo bhi sab se alaag alag ho kar door door baithe the. hum ne bhi ek corner men apni jagah bana li. hall men bahut hi jyaada andhera tha. Raj ki beech men baithaa kar men or Payal uske dono taraf baith gai.


Raj thoda thoda ghabraya hua tha. kuch hi der guzri ke maine apna sir Raj ke kandhepar rakh diya or apna ek haath Raj ke bazoo par rakh kar ahista ahista uske bazoo ko sahlaane lagi. Raj bhi meri taraf twajah de raha tha. us ne apna ek bazoo meri gardan ke peeche se daala or mere doosri taraf ke shoulder par rakh diya or dheere dheere mere bazoo ko sahlaane laga. maine ab apna haath Raj ki thigh par rakh diya or ahista ahista uski thigh ko sahlaane lagi. mera haath uske lund ki taraf badh raha tha. doosri taraf se Payal ne apna sir apne bhai ke kandhe par rakha hua tha.

Jaise hi mera haath Raj ke lund ki taraf badha to us ne mera haath pakad liya or bahut hi ahista se mere kaan men bola, ke kar rahi ho Payal bilkul saath baithi hai us ne dekh liya to bahut bura ho ga.

Lekin maine apna haath aage badha kar uske lund ke ubhaar par rakha or use mutthi men le kar hole hole dabaate hue boli, bahut andhera hai wo nahi dekh pay gi. ye kahte hue maine uske lund ko sahlaana shuru kar diya. mere haath ke touch se uskalund uski pant ke andar akarne laga.

Maine uske chehare ko apni taraf moda or phir apne honth Raj ke hontho par rakh diye or ahista ahista use choomne lagi. Raj ne apne honth peeche hataane chaahe to maine foran hi uske dono hontho ko apne lips men jakar liya or apni zubaan bhi uske munh ke andar daal di. Raj bhi mast hota jaa raha tha or uski masti ka andaza mujhe uski pant ke andar uske akarte hue lund se ho raha tha.


Maine apna haath hataya or Raj ke seene par rakh kar use sahlaane lagi utni der men Payal ne apna haath Raj ke lund par rakha or use dabane lagi. Raj ki to halata hi patli ho rahi thi do do khoobsoorat or jawan ladkiyon ke saath masti karte hue. Raj ne apna haath se Payal ka haath pakad kar apne lund se hatana chaha to Payal uske kaan men boli,

bhaiya ke baat hai apni biwi ko to maza de rahe ho lekin apni bahan ko mahroom rakh rahe ho.


Jaise hi men apna haath neeche dobara uske lund par le kar gai to foran hi Payal ne apna haath hata liya. Maine dobara se Raj ke lund ko apne haath men liya or use dabane ke baad uski pant ki zip kholne lagi. Raj ne koi mazhimat nahi ki kyonki use pata tha ke men uski baat nahi manoon gi. maine uske lund ko uski pant ki zip ke raste bahar nikala or ab thande tareek cinema haal men apni biwi or bahan ke beech men baithe hue Raj ka lund bilkul nanga ho chuka tha.

Raj ke nange lund ko maine apne haath men liya or use sahlaane lagi. dheere dheere uska lund or bhi akadta jaa raha tha. doosri taraf se Payal ne apne bhai ka ek haath pakada or use apne boobs par rakh diya or ahista ahista apni bahan ke bilkul stiff or seedhe akare hue boobs ko dabane laga. Payal bhi aankhe band kee hue apne bhai se apne boobs ko dabwaane ka maza le rahi thi.

Nasrir ka doosra haath maine kheench kar apni choot ke oopar rakh diya. Raj ne foran hi meri choot ko apni mutthi men le liya or use pahle to dabaane or phir ahista ahista sahlaane laga. kuch hi der men khud hi se Raj ne apna haath mere pajaamy ke andar daala or phir meri nangi choot ko sahlaana shuru kar diya. mera bhi maze se bura haal hone lga hua tha or meri aankahin band ho rahi thi . maine andhere men hi doosri taraf dekha to udhar bhi Raj ne apna haath apni behn ki tights ke andar daala hua tha or uski choot ko sahlaa raha tha.

how much lucke Raj was, ke ek hi waqt men apni biwi or apni bahan ki choot ko sahlaa raha tha or un men apni ungliyaan daal kar dono ko ek hi waqt men maze de raha tha. Raj ki ungliyaan mairi choot ke daane ko sahlaa rahi thi or meri aankhe ek baar phir se band ho chuki hui thi . men apni manzil ke qareeb pahunchti jaa rahi thi or kisi bhi waqt men meri choot paani chodne wali thi or meri bhi koshish thi ke jaldi se jaldi meri choot ka paani nikal jaaye or mera jism relax ho jaay lekin achanak hi kuch youn hua ke film ka interwal ho gaya or haal ki lights jalna shuru ho gai. hum teenon jaldi se seehy ho kar baithe. Raj ne meri or Payal ki choot par se apna haath hata liya or phir jaldi se apne lund ko apni pant ke andar kar liya. hum teeno hi ghabraaye hue the or phir kuch hi der men men muskaraa kar Raj ki taraf dekhne lagi or woh bhi muskara diya. Raj ki nazar bachaa kar maine Payal ko aankh maar di or bhi muskaraa di. Raj thoda sharminda sharminda lag raha tha.

Kuch der baar men uthi or toilet men jaane ka kah kar bahar aa gai lekin un dono bahan bhai men se koi bhi mere saath bahar nahi aya. jaise hi men toilet se farigh ho kar bahar aai or hall ki taraf jaane lagi to achanak se hi kisi ne mujhe peeche se awaaz di.

Bhabhi......... Bhabhi...........

Maine chounk kar peeche mur kar dekha to hamare hamsay ka larka Jay peeche se meri taraf aa raha tha. use achanak se dekh kar men thoda pareshaan si ho gai.
Jay hamara bilkul next door neighbour tha. abhi to wo poori tarah se jawan bhi nahi hua tha or kisi ladke ki tarah hi kam umar lagta tha. kaafi had tak sharmeela or sab logo se alat thalag rahne wala larka tha. mohalle men bhi kabhi usko kisi ke paas khare hue nahi dekha tha or na kabhi uski kisi ladki to kya kisi dusare ladke ke saath dosti ke baare men bhi nahi suna tha. bahut hi pyaara khoobsoorat, bhoola bhaala sharmeela or sharif larka tha mohale ka.

Jay mere paas aya or bola, bhabi aap yaha kya kar rahi ho.

Maine muskara kar use dekha or boli, bus wo hum sab bhi movie dekhne aye hue the lekin tum yaha kya kar rahe ho cinema men is waqt. kya apni mama ko bata ke aaye ho or papa ko.

Maine use tang karne ke liye kaha keun ke usko ghar men or mohalle men abhi tak bilkul ek bachhe ki tarah se hi treat kya jata tha or thaa bhi wo kuch aisa hi. hamare saath wale ghar men woh apni mama, papa, bhai or bhabhi ke saath rahta tha. uske bhai ki shaadi thoda arsa pahle hi hui thi.


Jay muskaraa kar bola, g g bhabhi men sab ko bata kar hi aya hun ghar par ke men movie dekhne jaa raha hoon. aain men aap ko cold drink pilaata hoon. mere inkaar ke bawjood wo bhaag kar paas hi canteen par gaya or two cold drink le aya. phir bola, aain bhabhi andar chalte hain interval khatam ho chuka hai or movie bhi shuru ho chuki hai.



Maine Jay se poocha, tumhare dost kaha baithe hain. wo muskara kar bola, bhabhi mere to koi bhi dost nahi hain men to akaila hi aaya hoon movie dekhne chalo ab men aap logon ke saath hi baith kar dekh loon ga.


Ab men or Jay cold drinks sip karte hue andar ki taraf badhe to achanak se mujhe khayal aya ke men Jay ko Raj or Payal ke paas kaise le jaa sakti hoon wo pata nahi abhi kis halat men baithe hun to is tarah se Jay ko sab kuch pata chal jaay ga or phir un dono bahan bhai ko bhi enjoy karne ka waqt nahi mile ga.


hum itni der men hall men enter hue to andar buaht hi andhera tha. Jay bola, bhabhi kahan par baithe hain Raj bhai udhar hi chalte hain.

Maine use kaha nahi buaht andhera ho raha hai hum log idhar hi baith jaate hain dono ek side par. wo bola, theek hai bhabhi movie ke baad un se mil len gaye or phir ek saath hi ghar chalen gaye. waha gallery to poori ki poori khaali padi hui thi maine Jay ko liya or ek taraf ho kar baith gai. Jay bhi mere saath ki chair par baith gaya. hum dono movie dekhte hue cold drink peene lage.

Maine jo kameez pahani hui thi woh sliyeveless thi or mere shoulders or neeche se bazoo poore nange the. Tareek hall men screen par chal rahi movie ki roshni men mere gore gore mulaayam bazoo bahut chamak rahe the. doosri taraf Jay ne ek t half sliyeve t-shirt pahan rakhi thi or saath men jeans.

kuch hi der men Jay ka naked bazoo mujhe apni nange mulaayam chikni bazoo se touch hota hua mahsoos hua. maine foran se koi bhi response nahi diya kyonki Jay ka naram se patle se bazoo ka touch buhaat acha feel ho raha tha mujhe apne bazoo par. uske jism ka touch mujhe seedha seedha mere dimaag par asar karta hua mahsoos ho raha tha. maine bhi apne bazoo ko hataane ki bajaay uske bazoo ke lams ko mahsoos karna shuru kar diya.


Jay ko bhi shayad ahsaas ho gaya tha ke uska bazoo mere bazoo se choo raha hai lekin men hata nahi rahi hoon to wo bhi chup kar ke baitha raha or mere jism ke lams ko mahsoos karta raha.

kuch hi der ke baad Jay apne hontho ko mere gaalon ki taraf lea to men to jaise chounk hi padi or thoda peeche ko hati lekin us ne aage ho kar bola, bhabhi meri baat sunain, wo oouncha bol raha tha lekin movie ki high sound men uski awaaz bahut hi kam aa rahi thi.

maine apna kaan uski taraf kya to wo bola, bhabhi Raj bhai pareshaan ho rahe hun gaye ke aap kaha rah gai ho unko to bata deti,

Men: haan ye theek kaha tum ne men use call kar deti hoon.


tabhi mujhe ahsaas hua ke men apna cell phone to apne purse samait wahin Payal ko de aai thi.

Maine Jay ki taraf munh kya or apne honth uske kaano ke qareeb le jaa kar bataya ke mere paas phone nahi hai.

Jay apne honth mere kaanon ke paas lea or is baar apne hontho ko mere kaano se choote hue baat karne laga,

bhabi aap mere cell se kar len call.

ye baat mukamal kar ke jaise hi wo peeche hata to mujhe ahsaas hua ke jaise us ne mere kaan ko hole se choom liya ho. lekin men sure nahi thi is liye chup rahi.Jay ne apna cell phone meri taraf badha diya. Maine us se cell phone liya or Raj ko call kar ke poori situation bata di wo bhi shayad khush hi tha ke use Payal ke saath enjoy karne ka time mil gaya tha. jis doran men Raj se phone par baat kar rahi thi to Jay ka bazoo tab bhi meri nangi chikni bazoo ke saath choo raha tha. ab mujhe thoda thoda ahsaas ho raha tha ke ye bacha ab inta bhi bacha nahi raha hai or use aurat ke jism se maza lene ka shouk shuru ho gaya hua hai. men dheere dheere muskaraa rahi thi bina use roke ya bina us se door hate hue.

Call karne ke baad bhi maine uska cell phone use nahi diya tha balki apne haath men hi tha phir men uske cell ki brwosing karne lagi. Jay ne mujhe rokna chaha or apne honth mere kaano se choo kar or apna haath mobile ki taraf badha kar bola,

Bhabhi cell de dian mera andar na dekhen plz.

Maine cell thoda peeche kya or boli, kyun is men tumhari girl friends ke numbers hain kya .

Wo chup kar gaya or phir bola, nahi bhabhi meri to koi bhi girl friend nahi hai.

Maine uske cell phone ki gellery kholi to us men images ko dekhne lagi. mukhtlif photos the uske kuch ghar walon ke the. Phir jaise hi maine video gallery kholi to us ne dobara phone lena chaha lekin maine haath peeche ko kar liya or uska haath mere seene ke aage se ho kar mobile ki taraf badha to uske bazoo se mere boobs press ho gaye.

oooppppps................. are are seedhe ho kar baitho kya kar rahe ho. dekhne to do kon si movies hain is men rakhi hui tum ne.


Jay: nahi nahi bhabhi kuch nahi hai is men plz mujhe mera cell phone de den. ye kahte hue us ne meri ek nangi bazoo par pahli baar apna haath rakha or phir mere bazoo ko pakad kar dusare haath se apne mobile ko pakad liya is doraan ek baar phir se uske bazoo ne mere khoobsoorat tane hue boob ko press kar diya. lekin is baar maine uska cell phone use de diya.


Jay ne apna cell phone apni pocket men daal liya. men bhi seedhi ho kar movie dekhne lagi jaise use thodi naraazgi dekhaa rahi hoon men.


Jay ne dobara se apna haath mere nange bazoo par rakha or ahista ahista mere nangi bazoo ko sahlaate hue bola, bhabi plz aap naraaz ho rahi hain kya .

ye kahte hue uske haath ki ungleon ne mere bazoo ke gird chakar poora kar liya ab uske haath ki ungleoon ki back side mere boobs ko choo rahi thi. or jaise jaise wo apne haath ko oopar neeche ko move karta to uske hath ki ungleon ki back mere boobs ko sahlaati jaati. mujhe bhi is men maza aa raha tha lekin men abhi bhi khamoozh baithi hui thi.


wo thoda sa meri taraf dobara jhuka or apne hontho ko mere nange shoulder par rakh kar bola, plz bhabhi naraaz na hoon men dekhaa don ga aapko cell phone lekin abhi to movie khatam hone wali hai lekin kal men aapke ghar aa kar dekhaoun ga aapko phir jo dil chaahe dekh lejey ga is men se.

Maine apna chehra mod kar uski taraf dekha to uske honth mere hontho ke bahut qareeb the or uski saansen mere chehare par par rahi thi . uski garam saansoon ki wajah se meri choot men kuch hone laga tha or mujhe thoda geela pan mahsoos hone laga tha. uske patle patle boyish pink lips ko apne itna qareeb dekh kar mere hontho par bhi halki si muskaan phail gai.


Jay ne mujhe muskaraate dekha to ekdam se jaise use pta nahi kitni khushi hui ke us ne aage badh kar achanak se mere gaal ko kiss kar liya or bola, ye hui na baat bhabhi, u r my so sweat bhabi.

ye kahte hue us ne apna bazoo mere dusare kandhe ki taraf daala or mujhe apni taraf kheench liya apne seene ki taraf. men us ladke ki harkatain dekh dekh kar hairan ho rahi thi. phir men boli,

are are ye kya kar rahe ho chodo mujhe, or ye kiss kyun kya tum ne mujhe.

Jay thoda peeche hata lekin mere shoulder par se apna haath nahi hataya or bola, aap bhi to meri bhabhi ki tarah hi ho na to jab men un se khush hota hun to unko bhi aise hi hug karta hoon.

us par men muskaraa di. baaqi movie ke doraan bhi Jay mera ek haath apne dono haathun men le kar baitha raha or use na mahsoos andaaz men ahista ahista sahlaata raha. mujhe bhi uske is tarah se sahlaane se maza aa raha tha. mujhe hairat ho rahi thi ke itna masoom or bhoola bhaala nazar aane wala larka kis qadar tej hai or kitna usko shouk hai jawan or khoobsoorat ladkiyon aur aurton ko choone ka.

Who is online

Users browsing this forum: Bing [Bot] and 43 guests