Incest मेरा परिवार और मेरी वासना

Post Reply

badlraj
Novice User
Posts: 207
Joined: 19 Apr 2019 09:48

Re: Incest मेरा परिवार और मेरी वासना

Post by badlraj »

अपडेट अच्छा है , लेकिन बहुत ही छोटा है ।
अपडेट का size बढाइये तब और मजा आएगा।
बाकी कहानी बहुत ही मस्त है ।


User avatar
Dolly sharma
Novice User
Posts: 1942
Joined: 03 Apr 2016 16:34

Re: Incest मेरा परिवार और मेरी वासना

Post by Dolly sharma »

अपडेट 72

#########


आज मुझे वो बहुत खुश लग रही थी और मुझे बहुत सुकून फील हो रहा था................ .



अब आगे


सभी लोग डाइनिंग टेबल पर बैठे हुए थे और खाना स्टार्ट कर चुके थे जबकि मंजू बार बार सबसे नज़रे चुरा कर मुझे देख रही थी और भी मेरी नज़र उससे मिलती तो वो शर्मा कर मुस्कुरा देती थी और ये सब डॉली की नज़रो से नही छुप पाया की किस तरह मैं और मंजू नैन मटक्का कर रहे है और उसके चेहरे पर जलन के भाव स्पष्ट नज़र आरहे थे वो तो अच्छा हुआ की वहाँ पापा मम्मी भी बैठे थे वरना पता नही शायद अभी तक वो हमे झाड भी देती

"अरे यार डॉली मैं तो बताना ही भूल गया था की तुम लोगो का गोआ का ट्रिप फाइनल हो गया है" तभी पापा बोले

"क्या सच.......तो कब निकलना है हमे और कितने दिनों का तौर है" डॉली खुशी से चहकति हुई बोली
"आज 12 तारीख है और तुम्हे 15 की सुबह ट्रेन से निकलना है जो तुम्हे 16 की सुबह गोआ पहुचा देगी फिर वहाँ तुम्हारे पास 16 से 20 तारीख तक का टाइम है 20 की रात को तुम वहाँ से निकल जाओगी यानी 5 डेज़ और 4 नाइट का पॅक है ये" पापा ने बताया

"वहाँ होटेल वग़ैरा तो बुक हो गई है ना" डॉली ने पूछा

"सब कुछ सेट कर दिया है तुम्हे बस ट्रेन मे बैठना ही है वहाँ पहुचते ही स्टेशन पर ही तुम्हारा गाइड मिल जाएगा जो आगे पूरी ट्रिप पर तुम्हारे साथ ही रहेगा" पापा बोले

"ओह्ह्ह्ह.थॅंक्स पापा" डॉली बोली


"और सोनू, तुम कुछ नही बोले तुम्हे खुशी नही हुई ये सब सुनकर" पापा ने मुझसे पूछा लेकिन मैं तो इस वक्त मंजू के साथ नैन मटक्के मे बिज़ी था इसलिए कुछ कह नही पाया था

"क्यों नही पापा मैं बहुत खुश हूँ लेकिन मुझसे ज़्यादा इच्छा डॉली की थी वहाँ जाने की इसलिए खुशी का इज़हार करने का मौका मैने उसे दे दिया" मैं हँसते हुए बोला और मेरी बात सुनकर सभी हँस पड़े और ये सब देख कर डॉली मुझे घूर्ने लगी और फिर इधर उधर की बाते करते हुए सभी ने खाना ख़तम किया और फिर मैं और पापा हॉल मे आकर टीवी देखने लगा जबकि सभी लॅडीस सॉफ सफाई मे लग गई थी कुछ देर बाद पापा अपने रूम मे चले गये और मंजू और डॉली भी हॉल मे आ गई थी लेकिन मंजू
नींद आ रही है कह कर उपर अपने रूम मे चली गई जबकि मैं कुछ देर उसके साथ रहना चाहता था लेकिन अब कुछ नही हो सकता था तभी मम्मी भी वहाँ आ गई

"अरे......तुम लोग अभी तक अपने रूम मे नही गये, चलो अब जाओ रात बहुत हो गई है" मम्मी बोली


"मम्मी वो क्या है ना की आज हम दोनो ही दोपहर मे सो लिए थे इसलिए नींद नही आ रही है तो मैने सोचा की सोनू के साथ बैठ कर गोआ मे क्या क्या घूमना है कहाँ कहाँ जाना है उसका प्लान बना लेती हूँ" डॉली बोली और मैं हैरत मे था की उसने मुझसे तो ऐसा कुछ कहा ही नही था लेकिन चुप रहने मे ही मेरी भलाई थी क्योंकि डॉली ने कुछ सोच कर ही ऐसा कहा होगा

"लेकिन तुम लोग तो कभी वहाँ गये नही फिर ये सब कैसे डिसाइड करोगे" मम्मी ने पूछा

"मम्मी आप टेन्षन मत लो गूगले है ना" डॉली बोली

"क्या......" मम्मी के कुछ समझ नही आया


"अरे मॉम.......इंटरनेट से सब पता चल जाता है और

User avatar
Dolly sharma
Novice User
Posts: 1942
Joined: 03 Apr 2016 16:34

Re: Incest मेरा परिवार और मेरी वासना

Post by Dolly sharma »

सोनू के मोबाइल से हम गोआ की सारी जानकारी नेट से निकाल कर सारा प्लान बना लेंगे" डॉली बोली

"पता नही क्या कह रही है मेरी तो कुछ समझ मे नही आरहा है, लेकिन ठीक है जो करना है वो करो लेकिन यहाँ नही अपने रूम मे और रात ज़्यादा नही होनी चाहिए टाइम पर सो जाना समझी" मम्मी बोली और अपने रूम की तरफ बढ़ गयी

"थॅंक्स मॉम, और सोनू तू अपना मोबाइल लेकर मेरे रूम मे आजा" कहती हुई डॉली मुझे आँख मार कर अपने रूम की तरफ चली गई और मैं समझ गया की कुछ हॉट होने वाला है क्योंकि उपर मंजू भी है तो वो मेरे रूम मे कुछ कर नही सकती थी इसीलिए उसने मुझे अपने रूम मे बुलाया है अब मोबाइल तो मेरे जेब मे ही था तो मैं भी डॉली के पीछे हो लिया

मैं डॉली के रूम मे पहुचा तो वो वहाँ नही थी शायद बाथरूम मे थी क्योंकि पानी गिरने की आवाज़ आ रही थी तो मैं वहीं बैठ गया और उसके बाहर आने का वेट करने लगा मुझे उम्मीद थी की अब जब वो मेरे आने से पहले ही बाथरूम मे गई है तो कुछ हॉट बन के ही आएगी लेकिन बाथरूम का दरवाजा खुलते ही मेरी सारी उम्मीडो पर पानी फिर गया डॉली इस वक्त जिस ड्रेस मे थी वो एक फ्रॉक टाइप की थी थी वाइट कलर की थी जो उसके गले से लेकर घुटनो के नीचे तक आ रही थी जिस मे डॉली लग तो बहुत सेक्सी रही थी लेकिन मुझे मज़ा नही आरहा था क्योंकि मुझे तो कुछ ज़्यादा ही बोल्ड ड्रेस की उम्मीद थी उससे

"चल निकाल अपना मोबाइल और गोआ की सर्च कर फिर प्लान करते है कुछ" वो मेरे पास बेड पर बैठती हुई बोली

"क्या सच मे तूने इसीलिए मुझे यहाँ बुलाया है" मैं उसे देखते हुए बोला

"तो और क्या, तूने सुना नही मम्मी के सामने मैने क्या कहा था" वो एक शरारती मुस्कान के साथ बोली

"ओह्ह्ह्ह.." मैं बोला और मैने गूगल पर गोआ सर्च कर दिया


"वैसे तूने क्या सोचा था" वो मुझे छेड़ते हुए बोली

"रहने दे अब वो बात पहले ये देख सर्च रिज़ल्ट आ गया है अब बना प्लान" मैं बोला

"अरे छोड़ यार मोबाइल को गोआ घुमाने के लिए गाइड है ना वहाँ पहले तू ये बता की तूने क्या समझा था की मैने तुझे यहाँ क्यों बुलाया है" डॉली बोली और उसने मेरे हाथ से मोबाइल छीन कर एक साइड रख दिया

"आ गई ना अपनी जगह पर अब सुन मैं ये समझा था की तू आज कुछ स्पेशल करने के मूड मे है और शायद इसीलिए मुझे यहाँ बुलाया है" मैं बोला

"स्पेशल मतलब?" उसने मुस्कुराते हुए पूछा "स्पेशल मतलब चुदाई" मैं बोला

"क्या..........नो वे तूने ये सोच भी कैसे लिया" वो वैसे ही मुस्कुराते हुए बोली

"अब मुझे ऐसा ही लगा तो सोच लिया" मैं बोला हालाँकि मैं जानता था की डॉली ये सब नही करेगी लेकिन फिर भी मैने चुदाई की बात कह दी थी

"एक बात कहूँ.....तुझे सही लगा था जो तूने सोचा था बिल्कुल सही सोचा था मैने आज चुदाई करने के लिए ही तुझे यहाँ बुलाया है" वो बोली

और अब हैरत मे पड़ने की बरी मेरी थी और मेरे मुँह से निकल ही गया "क्या....... ये क्या कह रही है तू ये सब यहाँ मम्मी पापा के रहते कैसे पासिबल है"

"क्यों बच्चू अभी बड़ी चुदाई की बाते कर रहा था और अब मैं तैयार हूँ तो पापा मम्मी के डर से फट गयी लेकिन तू चिंता मत कर मैने सब सेट कर लिया है तुझे परेशान होने की ज़रूरत नही है हमारी चुदाई के बारे मे किसी को पता नही चलेगा" वो बोली

"लेकिन, लेकिन कैसे" मैने पूछा


"वो क्या है ना की रात को सोने से पहले पापा मम्मी दूध पीकर सोते है और आज मैने उसमे मम्मी की स्लीपिंग पिल्स का थोड़ा ओवर डोस मिला दिया है अब वो दोनो सुबह तक उठने वाले नही है और मंजू तो वैसे भी नीचे आने वाली है नही तो नो पंगा" उसने बताया

"लेकिन तूने ये सब किया क्यों" मेरे मुँह से निकला

"देख भाई तू पहले ही बहुत लड़कियो को चोद चुका है मतलब तू झुता हो चुका है लेकिन इस वक्त मेरे मन मे तुझसे चुदवाने को इच्छा नही थी इसलिए मैं उन लड़कियो के बारे मे भूल जाती हूँ लेकिन अब मैं तुझसे चुदवाना चाहती हूँ और यहाँ मेरे अगेन्स्ट मंजू भी है जिसके साथ अभी खाना खाते वक्त तेरा नैन मटक्का देख कर मुझे लगा की कहीं मुझसे पहले वो ना चुदवा ले तुझसे और मुझे उसका भी झुता लंड लेना पड़े इसलिए मैने खाना खाते वक्त ही ये प्लान बनाया और ये सब किया" डॉली ने बताया

अब मैं सोच रहा था की कितनी ख़तरनाक लड़की है मेरी छोटी बहन डॉली जो मुझे मंजू के साथ सिर्फ़ इशारा करते देख कर ही कितना कुछ कर बैठी...................

Post Reply