Nazayaz rishta : zarurat ya kamjori नाजायज़ रिश्ता : ज़रूरत या कमज़ोरी

Post Reply
User avatar
shaziya
Novice User
Posts: 2306
Joined: 19 Feb 2015 03:27

Re: Nazayaz rishta : zarurat ya kamjori नाजायज़ रिश्ता : ज़रूरत या कमज़ोरी

Post by shaziya »

हम सब अपने घर आ गये

थकावट कम थी क्यूँ कि सारे काम तो किए हुए थे हम तो अपने घर आ गये
पर राज काफ़ी थके हुए थे

क्यूँ कि सब से ज़्यादा मेहनत उन्होने ही तो की थी.

बॅंक्वेट हॉल खाली हो जाने की वजह से सभी रिलेटिव्स घर आ गये थे
और जाने वाले जा रहे थे

पूरा दिन ऐसे ही निकल गया

राज आज भी नज़र नही आए क्यूँ कि कभी किसी को छोड़ने जाना तो कभी कुछ मेरे साथ शादी के बाद दो पल.साथ नही बैठे थे.

नेहा की कॉल भी आई कि देवी की पूजा के बाद सुहागरात मनाएँगे जो कि डे आफ्टर टुमॉरो है

पूरा दिन गुजर गया रात को राज मेरे पास आए
राज: जान शादी मुबारक हो

मे: आ याद आई आप को

राज: क्या करूँ जान काम इतना था

मे: क्यूँ आप के पापा नही कर सकते

राज: कोई बात नही चलो जाओ सो जाओ काफ़ी थक गई होगी तुम
और हाँ कल तैयार हो जाना

मे,वो: क्यूँ

राज: कल मंदिर जाना है साथ मे

मे: ठीक है पर क्या पहनु

राज: नेहा के रूम मे तुम्हारा बॅग पहुँचा दिया है

मे: मतलब

राज: नई दुल्हन नये कपड़े

मे: क्या

राज' हाँ मेरी जान गुड नाइट
और चले गये

आज पहली बार राज ने कुछ नही किया
क्या शादी के बाद कोई ऐसा करता है
पर क्या कर सकती थी और जब रूम मे आई तो
वहाँ पर नया बॅग रखा था

नेहा के रूम मे कोई नही था
और जब बॅग खोला तो उसमे काफ़ी अच्छी साड़ी थी ब्लाउस पेटिकोट अंडर गारमेंट्स और जीन्स और टी शर्ट थी
मुझे लगा राज की है इस लिए चेक नही की
और बॅग बंद कर दिया

और अपने रूम मे आ कर सो गई

क्यूँ कि राज का कुछ पता नही था

अगले दिन प्रीति और रूपा अपनी फॅमिली के साथ चली गई
घर पर अब कोई नही था

मे राज के पास पहुँची

मे: गुड मॉर्निंग जान

राज: गुड मॉर्निंग रेडी हो जाओ

मे: क्या पहनु

राज: महरून कलर की साड़ी उसकी मॅचिंग का सब कुछ एक दुल्हन की तरह

मे: जैसा आप कहे
और हम रेडी हो कर मंदिर गये

वहाँ राज ने हमारे नाम की स्पेशल पूजा करवाई
उसके बाद राज ने मुझे छुआ

राज: मुझे पता है कि आप गुस्सा हो मेरी हरकतों से
पर मे मंदिर मे पूजा के बाद आप को छूना चाहता था इस लिए कल इग्नोर किया

नेहा ने बताया था कि पहले देवी की पूजा होती है इस लिए मे भी मंदिर आया

मे उसको देखने लगी

मे: क्या क्या करोगे मेरे लिए

राज: अभी तो कुछ नही किया बड़ा काम बाकी है

मे: क्या

राज: अपने बच्चो की माँ बनाना

मे: चुप करो आप जहा मन करे शुरू हो जाते हो मंदिर है

राज: शादी करी है जान अब कोई कुछ नही बोल.सकता
और मुझे मंदिर से रेस्टोरेंट ले जाते है जहाँ हम दोनो लंच करते है



Hum sab apne Ghar AA gaye
Thakawat kaam thi kyun ki Sare kaam ko kiye hue the Hun to Apne Ghar AA gaye
Par raj kafi thake hue the
Kyun ki sab se jyada mehnat unhone hi to ki thi.
Banquet khali ho Jane ki vajah se date relatives Ghar AA gaye the
Aur Jane wale ja rahe the
Pura din aise he nikal gaya
Raj AJ bhi nazar nahi Aaye kyun ki Kabhi Kisi ko chhodne Jana to kabhi kuch mere sath shadi ke baad do pal.sath Nahi baithe the.
Neha ki call bhi aayi ki Devi ki puja ke baad suhagraat manayenge Jo ki day after tomorrow hai
Pura din gujar gaya Raat ko Raj mere pass Aaye
Raj: jaan shadi Mubarak ho
Me: aa yaad aai aap ko
Raj: kya karu Jaan kaam itna tha
Me: kyun aap ke papa Nahi kar sakte
Raj: koi baat nahi chalo jao so jao kafi thak gai hogi tum
Aur ha kal tyar ho Jana
Me,v: kyun
Raj: kal Mandir Jana hai sath me
Me: theek hai
Par kya pehnu
Raj: neha ke room me tumhara bag pahuncha Diya hai
Me: MATLAB
Raj: nai dulhan Nye kapde
Me: kya
Raj' ha meri jaan
Good night
Air chale gaye
Aj pehle baar Raj ne kuch Nahi
Kiya
Kya shadi ke baad koi aisa karta hai
Par kya kar Sakti thi aur jab Room me aai to
Waha par Naya bag rakha tha
Neha ke room me koi Nahi tha
Aur jab bag khola to usme kafi achhi sari thi blouse petticoat under garments aur Jean s aur t shirt thi
Muje laga Raj ki hai is liye check Nahi ki
Aur bag band kar diya
Aur apne room me aa kar so gai
Kyun ki Raj Ka kuch pata nahi tha
Agle din Preeti aur Rupa apni family ke sath chali gai
Ghar par ab koi Nahi tha
Me Raj ke pass pahunchi
Me: good morning jaan
Raj: good morning ready ho jao
Me: kya pehnu
Raj: mehrun color ki sari uski matching Ka sun kuch ek dulhan ki tarah
Me: jaisa aap kahe
Aur hum ready ho kar Mandir gaye
Waha Raj ne hamare naam ki special puja karwai
Uske baad raj ne mujhe Chua
Raj: mujhe pata hai ki aap gussa ho meri harkato se
Pat me Mandir me puja ke baad ap ko chuna chahata tha is liye kal ignore kiya
Neha ne bataya tha ki pehle Devi ki puja hoti hai
Is liye me bhi Mandir Aaya
Me usko Dekhne lagi
Me: kya kya karoge mere liye
Raj: abhi to kuch Nahi kiya bada kaam baki hai
Me: kya
Raj: Apne bachho ki maa banana
Me: chup karo aap jaha Mann kare shuru ho Jate ho Mandir hai
Raj: shadi Kari hai jaan ab koi kuch Nahi bol.sakta
Aur mujhe Mandir se restaurant le jate hai jaha hum dono lunch karte hai

User avatar
shaziya
Novice User
Posts: 2306
Joined: 19 Feb 2015 03:27

Re: Nazayaz rishta : zarurat ya kamjori नाजायज़ रिश्ता : ज़रूरत या कमज़ोरी

Post by shaziya »

अभी एक और सर्प्राइज़ था वो था हम रात को ही निकल रहे थे हनिमून के लिए और उससे बड़ा सर्प्राइज़ था
हमारे साथ अनुपम और नेहा भी थे

ये राज ने बताया मेरे हाथ मे टिकेट्स पकड़ाते हुए

मे: पर आप के पाप को कौन बताएगा

राज::उसका प्रोग्राम भी फिक्स है पापा भी रात को जा रहे है

मे: कहाँ

राज: अपने ऑफीस के दोस्तो के साथ रात को उनकी ट्रेन 6 बजे मे है और हमारी 8 बजे

मे: पर कहाँ जा रहे है

राज: मैने टूर स्पॉंसेर किया है पापा को ये पता है कि दोस्तो ने किया है

मे: आप बहुत चालू हो गये हो

राज: तुम्हारा असर है माँ

मे: नही अब माँ नही मे आप की पत्नी हूँ

राज: पर जब चुदाई होगी तब आप माँ रहोगी

मे: पर

राज: नही आप की इच्छा थी याद करो

मे::हाँ पर

राज: पर कुछ नही

मे,: मुझे मंज़ूर है क्यूँ कि बेटे से चुदने का मज़ा ही
अलग है

राज: ये हुई ना बात मेरी जान
और हम दोनो घर आ गये क्यूँ कि पॅकिंग करनी थी

घर पर राज के पापा थे
पहले उनकी पॅकिंग की और उनको भेजा

फिर जब हम दोनो अकेले रह गये तब शुरू हुआ हमारा प्यार

उमेश के जाते ही राज ने मुझे बाहों मे भर लिया

राज: आइ लव यू

मे: लव यू टू पति देव

राज: क्या बात है पति देव

मे: जो है वही बोला

राज: गुड गर्ल

मे: अब ऐसे ही खड़े रहना है या पॅकिंग भी करनी है

राज: करनी है ना मेरी छमिया

मे: क्या बात है नये नये नाम

राज: अभी क्या है सुनती जाओ

और राज ने मेरी साड़ी खीच कर उतार दी

मे: अब ये क्या है 8 बजे की ट्रेन है

राज: चेंज करने को उतारी है चोदने के लिए नही

मे: आप को शरम नही आती अपनी नई नई बीवी से ऐसे बोलते हुए

राज: हाँ आती है ना और अपनी पॅंट उतार दी और अंडरवेर भी

मैने अपना मूह फेर लिया

मे: आप बड़े बेशरम हो

राज: मे नहाने जा रहा हूँ चलना है

मे: नही आप छेड़ोगे

राज: प्रॉमिस होटेल पहुँच ने तक कुछ नही करूँगा
सिर्फ़ ब्रेकफास्ट करूँगा लंच और डिन्नर होटेल के रूम मे

मे: पक्का

राज: हाँ

मे मन मे

मे तो चाहती थी कि राज सब कुछ करे पर नई नई शादी थी तो बेशरम नही बन सकती थी
और राज मुझे ले कर बाथरूम आ गये

राज: चलो उतारो अपने कपड़े और दिखाओ घुँगरू कहाँ है

और मैने अपने सारे कपड़े उतार दिए मेरे शरीर पर अब सिर्फ़ राज की पहनाई हुए चैन और मेरी कमर मे वो चैन थी जो राज ने दिलाई थी और जिस मे घुगुरू पड़े थे

और घुगुरू मेरी चूत की फाकॉ के बीच मे था

राज: मेरा दूसरा दुश्मन पहली कच्छी थी
अब ये बन गया

मे: आप ने ही दिलाया है

राज: ऐसा जब होगा जब मेरे भी होठ वहाँ चाइल्ड रहेंगे

और मेरी चूत पर हाथ फेरने लगे

मे:आप ने मना किया था कुछ नही करेंगे

राज: सिर्फ़ हाथ फेर रहा हूँ जीभ नही

मे: राज की आँखों मे देखते हुए
तो फेरो ना

राज: पक्का

मे: हाँ मेरे राजा

और राज को उनके कंधे से पकड़ कर अपने सामने घुटनो पर बैठा दिया
और उनके होठों को अपनी चूत पे

मे: लो चूसो मेरे बेटे अपनी माँ की चूत को
और राज अपनी जीभ से मेरी चूत चाटने लगे जैसे कोई कुत्ता दूध चाटता है.


Jahan ek aur surprise tha wo tha hum raat ko he nikal rahe the honeymoon ke liye aur usse bada surprise tha
Hamare sath Anupam aur neha bhi the
Ye Raj ne bataya mere hath me tickets pakda ye hue
Me: par aap ke paap ko kaun batayega
Raj::uska program bhi fix hai papa bhi Raat ko Ka rahe hai
Me: Kaha
Raj: Apne office ke dosto ke sath Raat ko unki train 6 baje me hai aur hamari 8 baje
Me: par Kaha ja rahe hai
Raj: Maine tour sponcer kiya hai papa ko ye pata hai ki dosto ne kiya hai
Me: ap bahut chalu ho gaye ho
Raj: tumhara asar hai maa
Me: Nahi ab maa Nahi me aap ki patni hu
Raj: par jab chudai hogi tab aap MAA rahogi
Me: par
Raj: Nahi aap ki ichha thi Yaad karo
Me::ha par
Raj: par kuch nahi
Me,: mujhe manzur hai kyun ki bete se chudane ka maza he
Alag hai
Raj: ye hue Na baat meri jaan
Aur hum dono Ghar AA gaye kyun ko packing karni thi
Ghar par Raj ke papa the
Pehle unki packing ki aur unko bheja
Phir Jab hum dono akele reh gaye tab shuru hua hamara pyar

Umesh ke Jate he Raj ne mujhe bahon me bhar liya
Raj: I love u
Me: love u to pati Dev
Raj: kya baat hai pati Dev
Me: Jo hai wahi bola
Raj: good girl
Me: ab aise he khade rehna hai ya packing bhi karni hai
Raj: karni hai na meri chamiya
Me: kya baat hai naye maybe naam
Raj: abhi kya hai sunti jao
Aur Raj ne meri sari khich kar utar Di
Me: ab ye kya hai 8 baje ki train hai
Raj: change karne ki utari hai chodne ke liye Nahi
Me: aap ko sharam nahi aati apni nai nai biwi se aise bolte hue
Raj: ha aati hai Na aur apni pant utar Di aur underwear bhi
Maine apna muh pher liya
Me: aap bade beshram ho
Raj: me nahane ja Raha hu chalna hai
Me: nahi aap chedoge
Raj: promise hotel pahunch ne tak kuch Nahi karunga
Sirf breakfast karunga lunch aur dinner hotel ke room me
Me: pakka
Raj: ha
Me Mann me
Me to chahati thi ki raj sab kuch kare par nai nai shadi this to beshram Nahi ban sakti thi
Aur Raj mujhe le kar bathroom aa gaye
Raj: chalo utaro Apne kapde aur dikaho ghungru Kaha hai
Aur Maine Apne sare kapde utar diya mere shareer par ab sirf Raj ki pehnai hue chain aur meri kamar me wo chain thi Jo Raj ne dilai thi aur jis me ghuguru pade the
Aur ghuguru meri chut ki fako ke beach me tha
Raj: Mera dusra dushman pehli kachhi thi
Ab ye ban gaya
Me: aap ne he dilaya hai
Raj: aisa jab hoga jab mere bhi hoth waha child rahenge
Aur meri chut par hath pherne lage
Me:ap ne mana kiya tha kuch Nahi karenge
Raj: sirf hath pher raha hu jeabh nahi
Me: Raj ki ankhon me dekhte hue
TO PHERO NA
Raj: pakka
Me: ha mere raja
Aur Raj ko unke kandhe se pakad kar apne samne ghutno par baitha diya
Aur unke hothon ko aPani chut pe
Me: lo chuso mere bete apni MAA ki chut ko
Aur Raj apni jeabh se meri chut chatne lage jaise koi kutta dudh Chatta hai.


User avatar
mastram
Expert Member
Posts: 3236
Joined: 01 Mar 2016 09:00

Re: Nazayaz rishta : zarurat ya kamjori नाजायज़ रिश्ता : ज़रूरत या कमज़ोरी

Post by mastram »

मस्त कहानी है शाज़िया जी

अपडेट देते रहिए

Fan of RSS
Novice User
Posts: 2499
Joined: 31 Mar 2017 20:01

Re: Nazayaz rishta : zarurat ya kamjori नाजायज़ रिश्ता : ज़रूरत या कमज़ोरी

Post by Fan of RSS »

Dhansu update bhai Bahut hi Shandar aur lajawab ekdum jhakaas mind-blowing.

Keep going

We will wait for next update
(^^^-1$i7)

Post Reply