Incest मैं अपने परिवार का दीवाना

Post Reply
User avatar
rangila
Super member
Posts: 5649
Joined: 17 Aug 2015 16:50

Re: Incest मैं अपने परिवार का दीवाना

Post by rangila »

जब मैं घर पहुँचा तो मेरी तीनो मुझे अजीब नज़रो से देखने लगी,मैं भी क्या कर सकता था

खाने के वक़्त विदू खाना परोस रही थी
जब विदू मेरी प्लेट में खाना डालने लगी
तो वँया बोली,,दीदी और डालो ना दिलीप की प्लेट में आज इसने बहुत मेहनत की है

बड़ी मामी- क्या मेहनत की है दामाद जी ने

वँया- दामाद जी से ही पूछ लीजिए

बड़ी मामी- दिलीप तुम बताओ

दिलीप- मामी जिसने यह बात कही है उससे ही पूछिए

बड़ी मामी- वानु तू ही बता दे ना बेटी

[बेचारी वानु की बोलती बंद हो गयी

फिर हम सबने खाना खाया,और मैं अपने रूम में आ गया

कुछ देर बाद हमारे बॉस देव का फोन आया

दिलीप- बोलिए सर

देव- तेरी मासी का किडनॅप किसने कराया था,तुझे पता है

दिलीप- आप ही बता दीजिए सर

देव- खड़ा है तो बैठ जा

दिलीप- बैठ गया अब बोल

देव- तेरी सिमिता मासी है इसके पीछे

दिलीप- अच्छा मज़ाक है

देव- तेरे अलावा मैं किसके साथ फ्रेंड्ली बात करता हूँ

दिलीप- लेकिन वो ऐसा क्यूँ करेंगी

देव- यह तो तुझे ही पता करना पड़ेगा

दिलीप- पर कैसे

देव- एक और बात तेरी सिमिता मासी सिर्फ़ एक मोहरा है
इस सब के पीछे कोई और है

दिलीप- थॅंक यू सर

[फिर फोन कट हो गया,और मैं अपना सिर पकड़के बैठ गया

मैं तुरंत किरण मौसी के रूम में गया
वो मुझे देखके चौंक गयी

दिलीप- सिमिता मासी मुझसे नफ़रत क्यूँ करती हैं

किरण मौसी- क्या हुआ दिलीप

दिलीप- आप मेरे सवाल का जवाब दीजिए

किरण मौसी- दीदी तुझसे नफ़रत क्यूँ करेंगी

दिलीप- मासी मैं सिर्फ़ आवाज़ सुनके बता सकता हूँ,वो सच बोल रहा है,या झूठ

किरण मौसी- मुझे नही पता

[मैने किरण मौसी का हाथ पकड़के अपने सिर पे रख दिया

दिलीप- मेरी कसम ख़ाके कहिए

[किरण मौसी अपना हाथ झट से हटा ली

User avatar
rangila
Super member
Posts: 5649
Joined: 17 Aug 2015 16:50

Re: Incest मैं अपने परिवार का दीवाना

Post by rangila »

किरण मौसी- जिस दिन पिताजी और माँ की मौत हुई थी,उस दिन एक और जान गयी थी

दिलीप- किसकी

किरण मौसी- दीदी के पेट में जो बच्चा था

दिलीप- डाइयरी में कहाँ कुछ ऐसा लिखा था

किरण मौसी- दीदी जीजा जी और मैं ही जानती हूँ

दिलीप- इसी लिए वो मुझसे बात नही करती हैं

किरण मौसी- वो सोचती है कि यह सब तेरे पिता की वजह से हुआ

[मैं अपने रूम में आ गया

सिर्फ़ इसी लिए सिमिता मासी ने मेरे दुश्मन का साथ दिया
लगता है कोई उनका ग़लत इस्तेमाल कर रहा है

कुछ देर बाद विदू मेरे रूम में आई
और मेरे पास बैठ गयी

दिलीप- आप बड़े मामा को बोलिए कि कुछ दिन के लिए आप मेरे साथ सिमिता मासी के घर जाना चाहती हैं

विदू- सिर्फ़ हम दोनो

दिलीप- हां सिर्फ़ हम दोनो,और मुझे यह भी पता है कि आप मुझसे यह भी नही पूछेंगी,कि अचानक मैं ऐसा क्यूँ कह रहा हूँ

विदू- आप को बताने की ज़रूरत नही है
हां लेकिन वानु को कौन समझाएगा

दिलीप- उस चुहिया को मैं देख लूँगा

विदू- कब जाना है

दिलीप- कल

[और विदू जाने लगी

मैं उसका हाथ पकड़के अपनी तरफ खींचा

दिलीप- अरे मेरी जान पहले गुडनाइट किस तो दीजिए

[विदू शरमाते हुए मेरे होंठो पे किस करके चली गयी


User avatar
Pavan
Rookie
Posts: 113
Joined: 19 Apr 2020 21:40

Re: Incest मैं अपने परिवार का दीवाना

Post by Pavan »

Sir ji next update kab aayega

User avatar
Attitude8boy
Posts: 25
Joined: 20 Apr 2020 19:40
Location: Delhi
Contact:

Re: Incest मैं अपने परिवार का दीवाना

Post by Attitude8boy »

भाई आज 1महीने हो गए कब तक इंतजार करवाओगे
😒

Post Reply