Incest विदाउट रूल्स फैमिली लव अनलिमिटेड

Post Reply
josef
Platinum Member
Posts: 5404
Joined: 22 Dec 2017 15:27

Re: विदाउट रूल्स फैमिली लव अनलिमिटेड

Post by josef »

तरुण – “ तुम टिया की फ्रेंड हो. तो मेरी भी फ्रेंड हुई.. चलो
तुम भी आ जाओ.. साथ मे चलते है.”

इतना सुन कर सोनम के फेस पर एक बड़ी स्माइल आ जाती है. तरुण
उस स्माइल को देख कर

तरुण – “सोनम तुम स्माइल करती हुई बहुत ब्यूटिफुल लगती
हो.”

इतना सुनते ही टिया जो बाइक पर पीछे बैठी थी. उसने तरुण की
पीठ मे चुटकी भर ली.. जिसके दर्द से तरुण की आ निकल गयी..
ओर तरुण टिया की ओर देखने लगा.. टिया से चेहरे पर बहुत
गुस्सा था.

सोनम – “टिया मुझे बीच मे बैठने दो ना मुझे पीछे
बैठने से बहुत डर लगता है.”

टिया बिना कुछ बोले बाइक से उतर गयी.. ओर सोनम दोनो ओर पैर
करके बैठ गयी उसके बाद टिया भी बैठ गयी.. तरुण ने बाइक
को स्टार्ट किया ओर.. आगे बढ़ गया. सोनम ने तरुण को कस कर
पकड़ा हुआ था.. तरुण को भी सोनम की बॉडी हीट फील होरही थी.. साथ मे तरुण के दिमाग़ मे टिया का भी ख़याल था..
इसलिए वो बाइक के मिरर मे टिया का फेस देख रहा था.. ओर
सही मायनो मे टिया का दिमाग़ भी अब बहुत गर्म हो रहा
था. सोनम ने अपने हाथो को तरुण की कमर से धीरे –
धीरे नीचे सरकाना स्टार्ट किया ओर बिल्कुल तरुण के लंड के
ऊपर ले जा कर रोक दिया.. तरुण को ये फीलिंग एग्ज़ाइटेड कर रही थी.
ओर उसका लंड खड़ा हो गया था.

सोनम ने जब तरुण के
लंड को फील किया तो उसने अपने हाथो से लंड पर ओर ज़ोर से
दबाव बनाया.. तरुण बाइक बहुत स्लो चला रहा था.. टिया.
को इस बात पर भी गुस्सा आ रहा था. की भाई जल्दी बाइक
चला कर इस सोनम को उतार क्यो नही रहा.. लेकिन तरुण का तो
मूड कुछ ओर ही था..

उधर सोनम तरुण के लंड को पेंट
के ऊपर से ही सहला रही थी. ओर अपने बूब्स को तरुण की
कमर पर रगड़ रही थी.. तरुण ने अब अपना कंट्रोल खो दिया
था. ओर उसने एक हाथ से सोनम का एक हाथ पकड़ कर अपनी
पेंट के अंदर दे दिया ओर अपनी पेंट को ढीला कर दिया. सोनम की
तो इससे लॉटरी खुल गयी थी . ओर उसने आने दोनो हाथ से तरुण
के लंड पर पकड़ बना ली..
josef
Platinum Member
Posts: 5404
Joined: 22 Dec 2017 15:27

Re: विदाउट रूल्स फैमिली लव अनलिमिटेड

Post by josef »

सोनम तरुण के लंड की मुठिया मार रही थी.. लेकिन बहुत धीरे धीरे.. इससे सोनम को भी
अभी तक नशा हो चुका था. इस नशे के चलते तरुण ने
बाइक को ओर स्लो कर दिया.. टिया के गुस्से का बाँध अब टूट
चुका था.

टिया – “ भाई ये क्या. मरियल की तरहा बाइक चला रहे है.
थोड़ा तेज चलाओ ना”

टिया की तेज आवाज़ से तरुण ओर सोनम दोनो हड़बड़ा गये.
तरुण ने सोनम को अपने हाथ हटाने का इशारा किया. लेकिन
सोनम ने ऐसा कुछ नहीं किया.. ओर ऐसे विहेव किया. जैसे
उसे टिया से कोई फ़र्क ही नही पड़ता.

तरुण – “ टिया हम 3 लोग है ना बाइक पर.. इसलिए धीरे चला
रहा हू.”

टिया भी मन मसोस के रह गयी.. वो आगे कुछ बहस नही
करना चाहती थी.. ओर सोनम ने अपना काम चालू रखा.

तरुण अब अपनी लास्ट स्टेज पर आ गया था.. उसका वीर्य निकलने वाला था.. लेकिन उसे वक़्त सोनम ने अपने हाथ वापस पीछे खिच लिए.. इससे तरुण ने जब सोनम की ओर देखा तो.
सोनम – “ तरुण बस यहा रोक दो यही मेरा घर है.. ”

तरुण के साथ टाइम बहुत बड़ा धोका कर देता है.. वो मन
ही मन अपनी किस्मत पर पछतता है. ओर तरुण बाइक रोक देता
है ओर सोनम नीचे उतर जाती है.. सोनम दोनो को बाइ बोलती
है.. ओर जाते जाते तरुण की ओर कामुक स्माइल देती है.. इसी के
साथ अपनी उंगलियो को मुँह मे ले कर चुस्ती है. ओर चली जाती
है. ये सब टिया भी देखती है. लेकिन वो कुछ समझ नही
पाती..

तभी तरुण अपनी पेंट ठीक करता है ओर टिया की नज़र
वहाँ पड़ जाती है.. तरुण की पेंट पर कुछ गीला गीला लगा हुआ
था. इसे देख कर टिया को समझने मे टाइम नही लगता की
अभी क्या हुआ ओर क्यो हुआ.. क्यो सोनम ने अपनी उंगलिया चुसी.


वो समझ गयी थी की उसको उंगलियो पर उसके भाई का वीर्य
लगा हुआ था. उसको अब सोनम से ओर भी नफ़रत हो जाती है. ओर
उससे ज़्यादा तरुण से. की उसने ऐसा किया.. टिया बाइक पर तरुण
से थोड़ा दूर हो बैठी है. तरुण ने बाइक स्टार्ट की ओर आगे
बढ़ गया लेकिन कुछ दूर जाने पर


तरुण – “ टिया तुम इतना चुप क्यो हो.? वैसे तो इतना बोलती हो.
अभी क्या हुआ.काफ़ी देर से देख रहा हू. तुम कुछ बोल ही
नही रही हो.”

टिया – “हा तुम बिज़ी थे ना सोनम के साथ इसलिए”

तरुण कुछ समझ पाता उसे पहले ही टिया ने अपनी बात
बदल दी
टिया – “आई मीन्स तुम बाइक चलाने मे बिज़ी थे ना.”

तरुण – “ टिया तुम को याद है पहले मैं तुम को आगे
बैठा कर बाइक चलाता था.”
josef
Platinum Member
Posts: 5404
Joined: 22 Dec 2017 15:27

Re: विदाउट रूल्स फैमिली लव अनलिमिटेड

Post by josef »

तरुण – “ टिया तुम को याद है पहले मैं तुम को आगे
बैठा कर बाइक चलाता था.”

टिया – “ मुझे कुछ याद नही है. तुम जल्दी से मुझे
घर पहुचा दो बस.”

तरुण समझ चुका था की टिया उससे नाराज़ है. लेकिन किस
बात से ये वो समझ नही पा रहा था. उसे कुछ कुछ
आभास था की टिया क्यो नाराज़ है. लेकिन जब तरुण ने अपनी 20
मिट की लाइफ को दोबारा याद किया तो वो समझ गया.. जो वो सोच रहा है. वो सही है.. उसे सोनम ओर उसकी हरकत के बारे मे पता लग गया है.. तरुण टिया को ऐसे नाराज़ नही
देख सकता था. उसने टिया को मानने के लिए प्लान तुरंत
तैयार कर लिया.

तरुण – “ टिया आइस्क्रीम खाओगि . ? ”

टिया – “ नही मुझे नही खानी . मुझे तो बस घर जाना है.”

तरुण – “ मुझे तो आइस्क्रीम खाने का बहुत मन है.”
इतना कह कर तरुण आइस क्रीम पार्लर की ओर बाइक घुमा देता है.

कुछ देर मे बाइक आइस-क्रीम पार्ले मे रोकता है

तरुण – “ अरे बाबा जब तक मैं आइस-क्रीम खाउन्गा. तब तक
मेरे साथ बैठ कर मुझे कंपनी तो दे सकती हो ना.”

टिया – “ नही.. मुझे अभी घर छोड़ कर आओ..”

तरुण रोने की आक्टिंग आक्टिंग करता हुआ. टिया के फेस की ओर
देखता है. . मेली छोटी बहन मेले साथ आइस-क्रीम नही
खाएगी. ?

टिया. ये देख कर अंदर की ओर चल देती है. तरुण भी पीछे
पीछे चल देता है. तरुण जानता था की टिया को स्टोबेरी फेलवेर
की आइस-क्रीम बहुत पसंद है.

. ये आइस-क्रीम पार्लर आजकल बहुत फेमस था.
स्कूल की छुट्टी के बाद स्कूल के लड़के अपनी गर्लफ्रेंड को यहा ले
कर आते थे. ओर कॉलेज के लड़के भी गर्लफ्रेंड के साथ ही यहा आते
थे.. 11त ओर 12त मे पढ़ने वाली लड़किया यहा अपने बाय्फ्रेंड के
साथ आई हुई थी. लेकिन तरुण ने प्राइवेट केबिन लिया था.. जिससे
बाहर के लोग उनके बारे मे कुछ ग़लत ना समझे.

वेटर उनका ऑर्डर लेने आता है. तरुण टिया की ओर देखता है
तरुण – “ टिया क्यो लॉगी . ? ”

टिया – “ कुछ नही”

तरुण – “ वेटर 1 बिग स्टोबेरी फेलवेर आइस-क्रीम ”

वेटर वहाँ से चला जाता है. ओर टिया तरुण की ओर देखती है.
जैसे उसे कुछ पूछ रही हो.

तरुण भी उसकी ऐसी नज़रो को देखते हुए
तरुण – “ क्या हुआ. ये मैने अपने लिए ऑर्डर की है.. मै खाउन्गा.. सारी की सारी.”

इतना सुन कर टिया दूसरी ओर देखने लगती है. वेटर आइस-सेअर का
एक बिग कप टेबल पर सर्व करके चला जाता है. तरुण एक काँच
से आइस-क्रीम को टेस्ट करता है.

तरुण – “ वा क्या टेस्टी आइस-क्रीम है. बिल्कुल टिया के गालो
की तरहा. पिंक ओर बहुत स्वीट.”

इतना सुन कर टिया मुस्कुराने लगती है.. लेकिन उसका फेस दूसरी
ओर ही होता है. तरुण अपनी चेयर को टिया की चेयर के पास ले
जाता है. ओर आइस –क्रीम टिया को ऑफर करता है. टिया फिर से
सीरीयस होने की आक्टिंग करती है ओर मना कर देती है. तरुण
फिर से एक चम्मच आइस- क्रीम लेता है ओर बिल्कुल टिया के फेस
के पास आ कर ख़ाता है ..
josef
Platinum Member
Posts: 5404
Joined: 22 Dec 2017 15:27

Re: विदाउट रूल्स फैमिली लव अनलिमिटेड

Post by josef »

तरुण – “ यम्मी हा क्या टेस्ट है यार लेकिन टिया के गालो से
ज़्यादा टेस्टी नही है.. तुम क्या कहती हो टिया. ”

टिया कुछ नही बोलती है. ओर तरुण एक बार फिर टिया को आइस क्रीम ऑफर करता है. इस बार टिया आइस-क्रीम को ललचाई
नज़रो से देखती है. लेकिन कुछ बोलती नही.

तरुण – “ टिया तुम ऐसे ही नाराज़ रहोगी तो आइस-क्रीम तो
ख़त्म हो जाएगी.

अब टिया बोलने का टाइम आ गया था.
टिया – “ मेरे लिए मैं एक ओर आइस-क्रीम ऑर्डर कर रही हू.”

तरुण – “ क्यो . ? इसमे नही खाना. शायद मेरी झुटि
है इसलिए नही खाना चाहती हो.”

टिया – “ मैं इसे खाउन्गी तो तुम क्या खाओगे. “

तरुण टिया के गालो को पकड़ता हुआ..
तरुण – “ ये तुम्हारे गुलाबी गुलाबी गाल है ना.. इन्हे
खाउन्गा.. ओर रोज़.”

टिया इतना सुन कर खिल-खिला कर हँस पड़ती है. ओर आइस-क्रीम
खाने लगती है. इसमे भी तरुण टिया को बीच-बीच मे छेड़
रहा था.. उसे आइस-क्रीम छीनने के बहाने से . टिया आइस क्रीम ख़त्म करती है. ओर दोनो बिल पे करके बाहर आते है. बाहर दोनो बाइक के पास खड़े होते है.

तरुण – “ अब घर चले ..?? ”

टिया.- “ नही भाई अभी नही. ”

तरुण – “ अभी थोड़ी देर पहले तो तुम को बहुत जल्दी थी घर
जाने की.. अब क्या हुआ. “

टिया – “ भाई हमें ऐसे रोज़ मोका थोड़ी ना मिलता है साथ
मे घूमने का आज है तो घूमते है ना”

टिया तरुण के फेस की ओर देखा कर अपने आन्सर का वेट कर
रही थी. तब तरुण अपनी जेब से मोबाइल निकालता है ओर कामिनी
को कॉल करता है.

तरुण – “ हेलो मोम. टिया ओर मैं ज़ू जा रहे है. इसलिए लेट
आएँगे”

कामिनी – “ ओके बेटा लेकिन तुम दोनो लंच कर लेना “

तरुण – “ ओके मोम”

तरुण कॉल कट कर देता है . ओर टिया को एक प्यारी सी स्माइल देता
है. टिया भी स्माइली फेस से तरुण को देख रही थी. टिया उछल
कर तरुण के गले लग जाती है.. तरुण भी उसको अपनी बाहों मे
भर लेता है.फिर दोनो अलग होते है

टिया – “” भैया ज़ू कौन देखने जाता है आजकल.. चलो ना
मूवी देखने चलते है. “

तरुण हा मे सर हिलाता है.. ओर बाइक को स्टार्ट करता है. टिया
इस बार तरुण के चिपक कर बैठी है.. तरुण को बैठे ही
टिया के छोटे छोटे बूब्स कमर पर फील होते है. वो बाइक
को थियेटर की ओर ले चलता है.. वहाँ पहुच कर तरुण
आनिमेशन मूवी की टिकेट लेने लगता है.

टिया – “ क्या भाई ये बच्चो वाली मूवी दिखाओगे क्या. ? ”

तरुण – “ अरे तू बच्ची है तो बच्चो वाली मूवी ही
देखेंगे ना.”

टिया – “ नही भाई मुझे ये नही देखनी ”

तरुण – “ तो तुझे क्या देखना है “

टिया – “ मुझे अनाबेलल देखनी है.”

तरुण – “ वो हॉरर मूवी है.”

टिया – “ कोई बात नही.. चलो..”

तरुण 2 टिकेट लेता है ओर दोनो अंदर चले जाते है.. मूवी
स्टार्ट होती है. थियेटर मे सभी कपल्स थे. वहाँ मूवीदेखने वाले लोग बहुत कम थे.. सभी वहाँ एंजाय करने आए थे.. टिया ओर तरुण भी बिल्कुल पीछे जा कर बैठ जाते है.

मूवी स्टार्ट होती है.. टिया बहुत डर जाती है. ओर तरुण से
चिपक कर बैठ जाती है तरुण को टिया के बूब्स अपनी बाजू पर
फील होते है. जिन्हे टिया… तरुण के हाथ पर प्रेस कर रही थी..
Post Reply